This website uses cookies to ensure you get the best experience on our website. Learn more

Playlist of पाप नाशक

x
  • पाप नाशक कल्याणकारी | श्री हरी शरणाष्टकम | Shree Hari Sharanaashtakam | Prem Prakash Dubey

    5:22

    Listen to this Hari Sharanaashtakam(Dhyeyam Vandati Shivmev) and Indulge in the bhakti of Vishnu and Get the blessing of Hari
    इस हरी शरणाष्टक(ध्येयं वदन्ति शिवमेव) को जरूर सुने और ज्यादा से ज्यादा कीजिये |

    Spiritual Activity SAV - 4723_Tr299
    Subscribe Now:-

    Singer: Prem Prakash Dubey ( 9869791709 )
    Lyrics: Traditional
    Music: Prem Prakash Dubey
    Song: Shree Hari Sharanaashtakam
    Music Label: Spiritual Activity
    Digital Partner: Vianet Media Pvt. Ltd

    ♪ Stay Tuned with: ♪
    ♫ Gaana :
    ♫ Hungama :
    ♫ Saavn :
    ♫ Wynk:
    ♫ I-Tunes:

    ♪ Make Caller Tune ♪
    ♪ Airtel Subscriber Dial:- 5432117331717
    ♪ Vodafone / Idea Subscriber: Dial 53711816457
    ♪BSNL(S/E) Subscriber: Send SMS BT 11816457 To 56700
    ♪BSNL(N/W) Subscriber: Send SMS BT 7348239 To 56700


    Stay Connected With Us!!!

    Like Us On Facebook:

    #Harisharanashtakam #Vishnumantra #Vishnuji

    Dheyayam vadanthi shivamevahi kechid anye, Sakthim Ganesamaparethu divakaram vai,
    ध्येयं वदन्ति शिवमेव ही केचिदन्ये शक्तिं गणेशमपरे तु दिवाकरं वै

    Roopaisthu thairapivibhasiya thasthwameva, Thasmath thwmeva saranam Mama Sanka pane. 1
    । रूपैस्तु तैरपि विभासि यतस्त्वमेकस्- तस्मात्त्वमेव शरणं मम शङ्खपाणे ॥ १॥

    No sodharo na janako janani na jaya, Naivathmajo na cha kulam vipulam balam vaa,
    नो सोदरो न जनको जननी न जाया नैवात्मजो न च कुलं विपुलं बलं वा

    Sandrusyathena kila kopi sahaya kale, Thasmath thwmeva saranam Mama Sanka pane. 2
    संदृष्यते न किल कोऽपि सहायको मे तस्मात्त्वमेव शरणं मम शङ्खपाणे ॥ २॥

    No upasitha mada mapyasamaya mahaantha, Stheerthani chasthikadhiyani sevithani,
    नोपासिता मदमपास्य मया महान्तस्- तीर्थानि चास्तिकधिया नहि सेवितानि ।

    Devarchanam cha vidhi vannakruthan kadhapi, Thasmath thwmeva saranam Mama Sanka pane.
    देवार्चनं च विधिवन्न कृतं कदापि तस्मात्त्वमेव शरणं मम शङ्खपाणे ॥ ३॥

    Durvasana mama sada parikarshayanthi, Chitham sareeramapi roga gana dahanthi,
    दुर्वासना मम सदा परिकर्षयन्ति चित्तं शरीरमपि रोगगणा दहन्ति

    Sanjeevanam cha parahasha gaham thadaiva, Thasmath thwmeva saranam Mama Sanka pane. 4
    सञ्जीवनं च परहस्तगतं सदैव तस्मात्त्वमेव शरणं मम शङ्खपाणे ॥ ४॥

    Poorvam kruthani durithani mayathu yani, Smruthvakhilani hrudayam parikampathe me,
    पूर्वं कृतानि दुरितानि मया तु यानि स्मृत्वाखिलानि हृदयं परिकम्पते मे

    Khyatha cha the pathitha pavaa thathu yasmath, Thasmath thwmeva saranam Mama Sanka pane.
    । ख्याता च ते पतितपावनता तु यस्मात् तस्मात्त्वमेव शरणं मम शङ्खपाणे ॥ ५॥

    Dukham jara jananajamvividascha roga, Kakaswa sookara janir niraye cha patha,
    दुःखं जराजननजं विविधाश्च रोगाः काकश्वसूकरजनिर्निरये च पातः ।

    They vismruthe phalamidham vithatham hi loke, Thasmath thwmeva saranam Mama Sanka pane.
    त्वद्विस्मॄतेः फलमिदं विततं हि लोके तस्मात्त्वमेव शरणं मम शङ्खपाणे ॥ ६॥

    Vedeshu darama vachaneshu thadha gatheshu, Ramayanepi cha purana kadambake vaa,
    वेदेषु धर्मवचनेषु तथागमेषु रामायणेऽपि च पुराणकदम्बके वा ।

    Sarvathra sarva vidhinaa gathithasthwameva, Thasmath thwmeva saranam Mama Sanka pane. 7
    । सर्वत्र सर्वविधिना गदितस्त्वमेव तस्मात्त्वमेव शरणं मम शङ्खपाणे ॥ ८॥

    Start your day with Spiritual Activity to bring peace to your soul.we offer mantras, chants, stotram, Sahastranam, and Devotional Songs. Don’t Forget to Subscribe to this Channel for more Bhajan, Devotional Songs.

    ऐसे ही मंत्र, स्त्रोतम, सहस्त्रनाम, नामावली, अष्टकम और भक्तिमय गानो को सुनने के लिए आपके अपने चैनल को Spiritual Activity SUBSCRIBE करे और ज्यादा से ज्यादा Share कीजिये |

  • x
  • पाप नाशक वेदसार शिवस्तवः - Vedsaar Shivastavah - Sanjay Vidyarthi - Spiritual Activity

    6:46

    पाप नाशक वेदसार शिवस्तवः - Vedsaar Shivastavah - Sanjay Vidyarthi - Spiritual Activity


    SubscribeNow:


    1528

    Watch Vedsaar Shivastavah from the Spiritual Activity,


    Most Popular Mantra Collection :-

    Vrat Katha, Vidhi And Mantra :-

    Shree Ram Vandana :-

    Hanuman Vandana :-


    Soulful Chants of Vedsaar Shivastavah By Prem Prakesh Dubey



    Song : Vedsaar Shivastavah
    Singer : Sanjay Vidyarthi ( 9869791709 )

  • x
  • समस्त पापनाशक स्तोत्र

    13:22

    समस्त पापनाशक स्तोत्र
    भगवान वेदव्यास द्वारा रचित अठारह पुराणों में से एक 'अग्नि पुराण' में अग्निदेव द्वारा महर्षि वशिष्ठ को दिये गये विभिन्न उपदेश हैं। इसी के अंतर्गत इस पापनाशक स्तोत्र के बारे में महात्मा पुष्कर कहते हैं कि मनुष्य चित्त की मलिनतावश चोरी, हत्या, परस्त्रीगमन आदि विभिन्न पाप करता है, पर जब चित्त कुछ शुद्ध होता है तब उसे इन पापों से मुक्ति की इच्छा होती है। उस समय भगवान नारायण की दिव्य स्तुति करने से समस्त पापों का प्रायश्चित पूर्ण होता है। इसीलिए इस दिव्य स्तोत्र का नाम 'समस्त पापनाशक स्तोत्र' है।
    ☀कृपया इस वीडियो को औरों में भी बांटिए ताकि अधिक से अधिक लोग इसका लाभ ले सके यदि आपके धर्म ,अध्यात्म ,शरीर स्वास्थ्य संबंधी कोई भी प्रश्न हों तो कमेंट बॉक्स में जरूर पूछिए।
    ☀ हमारे चैनल पर लोकोपयोगी, शरीर स्वास्थ्य संबंधी, धर्म, अध्यात्म ,ज्योतिष व संगीत संबंधी जो भी वीडियो डाले जाते हैं उनकी नोटिफिकेशन पाते रहने के लिए चैनल के दाएं और दिख रहे हैं लाल सब्सक्राइब बटन को दबाकर हमारा चैनल सब्सक्राइब करें साथ ही घंटी के निशान को भी दबा दें ।
    हमारा ब्लॉग भी पढ़ें :
    Facebook पर भी हमसे जुड़ें: Twitter पर भी हमसे जुड़ें:
    लिखित पाठ यहां से डाउनललोड करें⏬

  • Samast Paapnashak Stotra | समस्त पाप नाशक स्तोत्र | Paap nashak Mantra | Cure Sins | Powerful Mantra

    10:01

    Samast Paapnashak Stotra | समस्त पाप नाशक स्तोत्र | Paap nashak Mantra | Cure Sins | Powerful Mantra

    Hi,

    Welcome to Knowledge Showledge !

    This video is about Samast Paapnashak Stotra, Samast Paapnashak Mantra, SamastPaapnashak Stotra. SamastPaapnashak Mantra, How to cure sins, Remove all sins, Powerful Mantra, Paapnashak Mantra, Paapnashak Stotra, समस्त पाप नाशक स्तोत्र.

    Thanks for watching this video. Please Like this video and Subscribe this Channel to view more such information.

    Regards

    Samast Paapnashak Stotra | समस्त पाप नाशक स्तोत्र | Paapnashak Stotra | Kalyug Mein Paap nashak Mantra | Cure All Sins | Powerful Mantra | Remove Curses of Previous Birth | Purv Janam Dosh Nivaran Mantra | Paap Karm Se Mukti

    Samast Paapnashak Stotra (All sins ruinous words). This Stotra is particularly fruitful in Kali Yuga.

    In Agni Purana, one of the eighteen Puranas written by Lord Vedavishaji, various teachings given by Agnidew were given to Maharishi Vashishta. Under this, Mahatma Pushkar says that man is guilty of theft, murder, adultery, etc., when he is pure, then he wants to get rid of these sins. At that time, the atonement of all sins is accomplished by the divine praise of Lord Narayana. That is why the name of this divine stotra is 'Samast Paapnashak Stotra'.

    समस्त पाप नाशक स्तोत्र | यह स्तोत्र कलयुग में विशेष फलदायी है|

    भगवन वेदव्यासजी द्वारा रचित अठारह पुराणों में से एक ‘अग्नि पुराण’ में अग्निदेव द्वारा महर्षि वशिष्ठ को दियें गये विभिन्न उपदेश हैं| इसीके अंतर्गत इस पापनाशक स्तोत्र के बारे में महात्मा पुष्कर कहते हैं कि मनुष्य चित्त की मलिनता चोरी, हत्या, परस्त्रीगमन आदि विभिन्न पाप करता है, पर जब चित कुछ शुद्ध होता है तब उसे इन पापों से मुक्ति की इच्छा होती है| उस समय भगवान नारायण की दिव्य स्तुति करने से समस्त पापों का प्रायश्चित पूर्ण होता है| इसीलिए इस दिव्य स्तोत्र का नाम ‘समस्त पापनाशक स्तोत्र’ है|

    निम्नलिखित प्रकार से भगवान नारायण की स्तुति करें:

    पुष्करोवाच

    विष्णवे विष्णवे नित्यं विष्णवे विष्णवे नमः ।
    नमामि विष्णुं चित स्थमहंकारगतिं हरिम् ॥
    चित्तस्थमीशमव्यक्तमनन्तमपराजितम् ।
    विष्णुमीडयमशेषेण अनादिनिधनं विभुम् ।।
    विष्णुश्चित्तगतो यन्मे विष्णुर्बुद्धिगतश्च यत् ।
    यच्चाहंकारगो विष्णुर्यव्दिष्णुमॅयि संस्थितः ॥
    करोति कर्मभूतोऽसौ स्थावरस्य चरस्य च ।
    तत् पापं नाशमायातु तस्मिन्नेव हि चिन्तिते ॥
    ध्यातो हरति यत् पापं स्वप्ने दृष्टस्तु भावनात् ।
    तमुपेन्द्रमहं विष्णुं प्राणतातिॅहरं हरिम् ॥
    जगत्यस्मिन्निराधारे मज्जमाने तमस्यधः ।
    हस्तावलम्बनं विष्णुं प्रणमामि परात्परम् ॥
    सर्वेश्वरेश्वर विभो परमात्मन्नधोक्षज ।
    हृषीकेश हृषीकेश हृषीकेश नमोऽस्तु ते ॥
    नृसिंहानन्त गोविंद भूतभावन केशव ।
    दुरुक्तं दुष्कृतं ध्यातं शमयाधं नमोऽस्तु ते ॥
    यन्मया चिन्तितं दुष्टं स्वचित्तवशवर्तिना ।
    अकार्यँ महदत्युग्रं तच्छ्मं नय केशव ॥
    ब्रह्मण्यदेव गोविंद परमार्थपरायण ।
    जगन्नाथ जगध्दतः पापं प्रश्मयाच्युत ॥
    यथापरह्मे सायाह्मे मध्याह्मे च तथा निशि ।
    कायेन मनसा वाचा कृतं पापमजानता ॥
    जानता च हृषीकेश पुण्डरीकाक्ष माधव ।
    नामत्रयोच्चारणतः पापं यातु मम क्षयम् ॥
    शरीरं में हृषीकेश पुण्डरीकाक्ष माधव ।
    पापं प्रशमयाध त्वं वाक्कृतं मम माधव ॥
    यद् भुंजन यत् स्वपंस्तिष्ठन् गच्छन् जाग्रद यदास्थितः ।
    कृतवान् पापमधाहं कायेन मनसा गिरा ॥
    यत् स्वल्पमपि यत् स्थूलं कुयोनिनरकावहम् ।
    तद् यातु प्रशमं सर्वं वासुदेवानुकीर्तनात् ॥
    परं ब्रहम परं धाम पवित्रं परमं च यत् ।
    तस्मिन् प्रकीर्तिते विष्णौ यत् पापं तत् प्रणश्यतु ॥
    यत् प्राप्य न निवतॅन्ते गन्धस्पशाॅदिवजिॅतम् ।
    सूरयस्तत् पदं विष्णोस्तत् सर्वं शमयत्वधम् ॥
    ( अग्नि पुराण : १७२.)

    माहात्म्यं :-

    पापप्रणाशनं स्त्रोत्रं यः पठेच्छृणुयादपि ।
    शारीरैमॉनसैवॉग्जैः कृतैः पापैः प्रमुच्यते ॥
    सर्वपापग्रहादिभ्यो याति विष्णोः परं पदम् ।
    तस्मात् पापे कृते जप्यं स्त्रोत्रं सवॉधमदॅनम्॥
    प्रायश्चित्तमधौधानां स्त्रोत्रं व्रतकृते वरम् ।
    प्रायश्चित्तैः स्त्रोत्रजपैर्व्रतैनॅश्यति पातकम् ॥
    ( अग्नि पुराण : १७२.१९ -२१ )

    Please Don’t Forget To Like Our Videos & Subscribe This Channel “KNOWLEDGE SHOWLEDGE”.

    Link of Samast Paapnashak Stotra with Hindi Anuvaad:

    Watch & Subscribe our Youtube Channel at:

    Blog URL:

    With Best Regards,
    KS3 – Knowledge Showledge

  • x
  • समस्त पाप नाशक स्तोत्र Samasta paap nashak stotra

    5:29

    समस्त पाप नाशक स्तोत्र
    Samasta paap nashak stotra

  • समस्त पापनाशक विष्णु स्तोत्र | यह स्तोत्र सभी पापोंका विनाश करता है | Paap Nashan Vishnu Stotra |

    6:16

    #lordvishnu#vishnustotram#paapnashanstotra

    समस्त पापनाशक विष्णु स्तोत्र
    यह स्तोत्र सभी पापोंका विनाश करता है
    यह एक मात्र स्पेशल ऐसा स्तोत्र है जो पापो का विनाश करने के लिए ही है |
    ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
    Paap Nashan Vishnu Stotram

    ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
    Watch & Listen More Videos

    Tantrik lakshmi kavach


    Shree Ramraksha Stotra


    Lakshmi Mala Mantra


    Rahu kavach


    Shani vajrapanjar kavach


    Shukra kavach


    Bruhaspati kavach


    Budha Kavach


    Mangal Kavach


    Chandra kavach


    Surya Kavach


    Surya 12 Naam


    Durga Saptshloki


    Samputik Shrisuktam


    Runharta ganesh stotra


    Pashupatastra mantra


    Pragyavardhan Stotra


    Narayan Kavach


    Mahamrityunjaya Stotra


    Ganesh runmukti mantra 108 times


    Lalita 108 namavali


    Ganesh Lakshmi stotra


    Aparjita stotra


    Mahalakshmi 184 Naam


    Pitru stotra


    Sarvarishta nivaran stotra

    --------------------------------------------------------------------------------------------------------------
    Runmochan Mangal 21 Naam With Lyrics
    Vocals: Anand Pathak ( Acharya )
    Editor: Anand Pathak ( Acharya )
    Mail ID: anandbijal8587@gmail.com
    Music Harshal-Ujjwal
    Mixing & Mastering: Cadence Music Production
    Music Label: Mantra-Stotra by Anand Pathak
    Email : anandbijal8587@gmail.com
    ----------------------------------------------------------------------------------------

  • x
  • पाप नाशक श्रीगंगा अष्टोत्तरशत नामावली - Shree Ganga Ashtottar Shatnamavali 108 - Prem Prakesh Dubey

    8:44

    पाप नाशक श्रीगंगा अष्टोत्तरशत नामावली - Shree Ganga Ashtottar Shatnamavali 108 - Prem Prakesh Dubey

    SubscribeNow:


    Spiritual Activity - 2718


    Watch Shree Ganga Ashtottar Shatnamavali 108 from the Spiritual Activity,


    Most Popular Mantra Collection :-

    Vrat Katha, Vidhi And Mantra :-

    Shree Ram Vandana :-

    Hanuman Vandana :-


    Song : Shree Ganga Ashtottar Shatnamavali 108
    Singer : Prem Prakesh Dubey ( 9869791709 )
    Music : Prem Prakesh Dubey

  • पाप नाशक - श्री नर्मदाष्टकम || Shree Narmadashtakam || Narmada Ashtakam || Avshesh Betiya

    8:07

    Listen to this Narmada Ashtakam ( namanidevinarmade ) and Indulge in the bhakti of Narmada Mata and Get the blessing of NarmadeMaa

    इस नर्मदाअष्टकम ( नमामिदेवीनर्मदे ) को जरूर सुने और ज्यादा से ज्यादा कीजिये |

    Spiritual Activity SAV - 4791_22580
    Subscribe Now:-

    Singer: Avshesh Bentiya
    Lyrics: Traditional
    Song: Shree Narmadashtakam
    Music Label: Spiritual Activity
    Digital Partner: Vianet Media Pvt. Ltd

    ****************************
    ♪ Stay Tuned with:
    ♪ ♫ Gaana :
    ♫ Hungama :
    ♫ Saavn :
    ♫ Wynk:
    ♫ Google Play:-
    ♫ I-Tunes:-

    ♪ Make Caller Tune ♪
    ♪ Airtel Subscriber Dial:-
    ♪ Vodafone / Idea Subscriber: Dial
    ♪BSNL(S/E) Subscriber: Send SMS To 56700
    ♪BSNL(N/W) Subscriber: Send SMS To 56700
    ****************************

    Stay Connected With Us!!!
    Like Us On Facebook:

    Songs Lyrics:
    श्रीनर्मदाष्टकम
    सबिंदुसिन्धुसुस्खलतरंगभंगरंजितम
    द्विषत्सुपापजातजातकारिवारिसंयुतम
    कृतान्तदूतकालभुतभीतिहारिवर्मदे
    त्वदीयपादपंकजमनमामिदेवीनर्मदे 1

    त्वदम्बुलीनदीनमीनदिव्यसम्प्रदायकम
    कलौमलौघभारहारिसर्वतीर्थनायकं
    सुमस्त्यकच्छनक्रचक्रचक्रवाक्शर्मदे
    त्वदीयपादपंकजमनमामिदेवीनर्मदे 2

    महागभीरनीरपुरपापधुतभूतलं
    ध्वनतसमस्तपातकारिदरितापदाचलम
    जगल्ल्येमहाभयेमृकुंडूसूनुहर्म्यदे
    त्वदीयपादपंकजमनमामिदेवीनर्मदे 3

    गतंतदैवमेंभयंत्वदम्बुवीक्षितमयदा
    मृकुंडूसूनुशौनकासुरारीसेवीसर्वदा
    पुनर्भवाब्धिजन्मजंभवाब्धिदुःखवर्मदे
    त्वदीयपादपंकजमनमामिदेवीनर्मदे 4

    अलक्षलक्षकिन्नरामरासुरादीपूजितं
    सुलक्षनीरतीरधीरपक्षीलक्षकुजितम
    वशिष्ठशिष्टपिप्पलादकर्दमादिशर्मदे
    त्वदीयपादपंकजमनमामिदेवीनर्मदे 5

    सनत्कुमारनाचिकेतकश्यपात्रिषटपदै
    धृतमस्वकीयमानषेशुनारदादिषटपदै:
    रविन्दुरन्तिदेवदेवराजकर्मशर्मदे
    त्वदीयपादपंकजमनमामिदेवीनर्मदे 6

    अलक्षलक्षलक्षपापलक्षसारसायुधं
    ततस्तुजीवजंतुतंतुभुक्तिमुक्तिदायकं
    विरन्चीविष्णुशंकरंस्वकीयधामवर्मदे
    त्वदीयपादपंकजमनमामिदेवीनर्मदे 7

    अहोमृतमश्रुवनश्रुतममहेषकेशजातटे
    किरातसूतवाड़वेषुपण्डितेशठेनटे
    दुरंतपापतापहारिसर्वजंतुशर्मदे
    त्वदीयपादपंकजमनमामिदेवीनर्मदे 8

    इदन्तुनर्मदाष्टकमत्रिकलामेवयेसदा
    पठन्तितेनिरंतरमनयान्तिदुर्गतिमकदा
    सुलभ्यदेवदुर्लभंमहेशधामगौरवम
    पुनर्भवानरानवैत्रिलोकयंतीरौरवम 9

    त्वदीयपादपंकजमनमामिदेवीनर्मदे
    नमामिदेवीनर्मदे, नमामिदेवीनर्मदे
    त्वदीयपादपंकजमनमामिदेवीनर्मदे

    Start your day with Spiritual Activity to bring peace to your soul.we offer mantras, chants, stotram, Sahastranam, and Devotional Songs. Don’t Forget to Subscribe to this Channel for more Bhajan, Devotional Songs.

    ऐसे ही मंत्र, स्त्रोतम, सहस्त्रनाम, नामावली, अष्टकम और भक्तिमय गानो को सुनने के लिए आपके अपने चैनल को Spiritual Activity SUBSCRIBE करे और ज्यादा से ज्यादा Share कीजिये |

  • पूर्व जनम पाप निवारण मंत्र | पावरफुल मंत्र | शाप मुक्ति के लिए मंत्र | Powerful Mantra

    1:52

    पूर्व जनम पाप निवारण मंत्र | पावरफुल मंत्र | शाप मुक्ति के लिए मंत्र | Powerful Mantra

    Om Hreem Kleem Shreem is a popular devotional mantra. Enjoy listening to this wonderful and peaceful mantra that comes under name - Purv Janam and used to vanish the our sins or mistakes done in previous life. This mantra has been sung in the magical and sweet voice of Manali Sankhala. Make your day more special by enjoying and listening to such devotional mantras.

    Stay Blessed!!!

    #mantra #devimantra #shantimantra #mantraforfamily #aarti #omremshreem #Omhreemkleem

    For more Indian Devotional Videos
    SUBSCRIBE to:
    For popular Mantras, Bhajans, Aartis, Devotional Songs and Darshan
    SUBSCRIBE to:
    Sai Devotees can now watch Exclusive Sai Baba videos, Aartis, Bhajans & Chants
    SUBSCRIBE to -

    Like, Comment and Share this video with everyone you love.
    Connect with us on:-
    Facebook -
    Twitter -
    Pinterest -
    Google+ - ,
    Sign up for Free and get daily updates on New Videos, exclusive Web Shows, contests & much more


    Send us your feedback and suggestions at : connect@shemaroo.com

  • x
  • जाने पाप नाशक मंत्र कौन सा है संत रामपाल जी महाराज जी द्वारा

    2:39

  • सम्पूर्ण माँ महालक्ष्मी मंत्र ! सम्पूर्ण पाप से मुक्ति ,आपार धन के लिए इस मंत्र को सुने

    52:05

    सम्पूर्ण माँ महालक्ष्मी मंत्र (बीज मंत्र ) ! सम्पूर्ण पाप से मुक्ति ,आपार धन के लिए इस मंत्र को सुने



    Shakti
    Cults of goddess worship are ancient in India. The branch of Hinduism that worships the goddess, known as Devi, is called Shaktism. Followers of Shaktism recognize Shakti as the power that underlies the male principle, and Devi is often depicted as Parvati the consort of Shiva or as Lakshmi the consort of Vishnu. She is also depicted in other guises, such as the fierce Kali or Durga. Shaktism is closely related with Tantric Hinduism, which teaches rituals and practices for purification of the mind and body.The Mother Goddess has many forms. Some are gentle, some are fierce. Shaktas use chants, real magic, holy diagrams, yoga and rituals to call forth cosmic forces

    Saiva
    Saivism is the Hindu sect that worships the god Shiva. Shiva is sometimes depicted as the fierce god Bhairava. Saivists are more attracted to asceticism than adherents of other Hindu sects, and may be found wandering India with ashen faces performing self-purification rituals. They worship in the temple and practice yoga, striving to be one with Siva within.

    Vaishnava
    Vaishnavism is the sect within Hinduism that worships Vishnu, the preserver god of the Hindu Trimurti ('three images', the Trinity), and his ten incarnations. It is a devotional sect, and followers worship many deities, including Ram and Krishna, both thought to be incarnations of Vishnu. The adherents of this sect are generally non-ascetic, monastic and devoted to meditative practice and ecstatic chanting.Vaishnavites are mainly dualistic. They are deeply devotional. Their religion is rich in saints, temples and scriptures.

  • भय और संकट नाशक - श्री कालभैरवाष्टकम् - Kalabhairava Ashtakam - Prem Prakesh Dubey

    6:23

    भय और संकट नाशक - श्री कालभैरवाष्टकम् - Kalabhairava Ashtakam - Prem Prakesh Dubey

    SubscribeNow:


    Spiritual Activity - 2770

    Watch Kalabhairava Ashtakam from the Spiritual Activity,


    Most Popular Mantra Collection :-

    Vrat Katha, Vidhi And Mantra :-

    Shree Ram Vandana :-

    Hanuman Vandana :-


    Soulful Chants of Kalabhairava Ashtakam By Prem Prakesh Dubey


    Song : Kalabhairava Ashtakam
    Singer : Prem Prakesh Dubey ( 9869791709 )
    Music : Prem Prakesh Dubey

  • सर्व कार्य सिद्धि व शत्रु नाशक हनुमान मंत्र | हनुमान कार्य सिद्धि मंत्र | Hanuman Mantra

    26:36

    हे हनुमान, आप किसी भी प्रकार के कठिन कार्यों की सिद्धि के सबसे बड़े उदाहरण हैं। जैसे आपने सीता की खोज में समुद्र को पार कर कई राक्षसों को रास्ते में हराया और कई अन्य चमत्कार भी किए।कृपया मेरे प्रयासों पर नियंत्रण रखं और मेरे जीवन के दुखों और समस्याओं को नष्ट करके मेरी रक्षा करें।

    आपके दैनिक सफलता और जीवन में खुशी के लिए प्रतिदिन 11 बार इस मंत्र का पाठ करने की सलाह दी जाती है। जीवन की गंभीर समस्याओं पर काबू पाने के लिए इस मंत्र का जाप 108 बार या 40 दिनों तक 11 बार करते हैं।

    हनुमान कार्य सिद्धि मंत्र :-
    त्वमस्मिन कार्य निर्योगे प्रमाणं हरी सत्तम |
    हनुमान यत्न मामस्तावा दुख क्षय करो भव ||

    Tvamasmin Kaarya Niryoge ,Pramaanam Hari Sattama |
    Hanuman Yatna Maasthaaya ,Dukha Kshaya Karo Bhava ||

    Song:- Hanuman Karya Siddhi Mantra
    Singer:- Sudha
    Music:- Sourav
    Lyrics:- Traditional

    #हनुमानमंत्र #hanumanmantra #hanumanchalisa #shemaroobhakti
    Download ShemarooMe APP for more devotional songs and share it with your friends and Family:

    Give a missed call on 18002665151


    Hanuman Karya Sidhhi Mantra is a mantra dedicated to Hanuman. Listen and recite the mantra and seek his blessings.


    Subscribe to Shemaroo Bhakti YouTube channel for all popular Mantra, Aarti, Stotra, Chalisa, Bhajan, Amritwani, Meditation Chants, Jaap, Shlokas, and Kirtan.
    Hanuman Chalisa, Gayatri Mantra, Ganesh Mantra, Ganesh Aarti, Lakshmi Aarti, Laxmi Aarti. Mahamrityunjay Mantra, Om Namah Shivay Dhun, Shiv Dhun, Shiv Chalisa, Om Jai Jagdish Hare Aarti, Vishnu Sahasranamam, Hanuman Bhajans, Shani Dev Mantra, Shani Mantra, Sai Baba Bhajan, Mata Ke Bhajan, Krishna Bhajan, Ganesh Bhajan, Ram Bhajan, Laxmi Bhajan, Santoshi Maa , Sherawali Mata, Aarti Sangrah, Morning Mantra, Shiv Bhajan, Shanidev Bhajan, Vishnu Bhajan, Saibaba Bhajan, Devi Maa Bhajan, Shiv Aarti, Hanuman Aarti, Shani Aarti , Santoshi Mata Aarti , Sai Aarti, bhakti songs hindi, bhakti song, aarti, bhajan, bhakti songs, aarti songs, bhaktigeet, bhajan songs, bhajan songs hindi, भजन हिंदी, hindi bhajans, Shemaroo bhakti, bhakti, Shemaroo bhakti songs

  • संकट नाशक हनुमान मंत्र - Shree Hanuman Mantra 108 - Prem Prakash Dubey

    1:2:03

    Spiritual Activity SAV - 4560_Tr22472
    Subscribe Now :-

    Singer : Prem Prakesh Dubey ( 9869791709 )
    Lyrics : Traditional
    Music : Prem Prakesh Dubey
    Song : Shree Hanuman Mantra
    Music Label : Spiritual Activity
    Digital Partner: Vianet Media Pvt. Ltd

    संकट नाशक हनुमान मंत्र - Shree Hanuman Mantra 108 - Prem Prakash Dubey

  • गुरुवार स्पेशल | गजेंद्र मोक्ष स्तोत्र | कर्ज से मुक्ति दिलाता है गजेन्द्र मोक्ष | ॐ नमोः नारायणाय

    16:45

    To get more of Bhajans / Aartis / Chalisa subscribe to our channel by clicking here --

    Gajendra Moksha
    Singer: Ravish And Sonam Soni
    Music: Manish Sharma
    Label: Yuki

    श्रीमद्भागवत के अष्टम स्कन्ध में गजेन्द्र मोक्ष की कथा है । द्वितीय अध्याय में ग्राह के साथ गजेन्द्र के युद्ध का वर्णन है, तृतीय अध्याय में गजेन्द्रकृत भगवान के स्तवन और गजेन्द्र मोक्ष का प्रसंग है और चतुर्थ अध्याय में गज ग्राह के पूर्व जन्म का इतिहास है । श्रीमद्भागवत में गजेन्द्र मोक्ष आख्यान के पाठ का माहात्म्य बतलाते हुए इसको स्वर्ग तथा यशदायक, कलियुग के समस्त पापों का नाशक, दुःस्वप्न नाशक और श्रेयसाधक कहा गया है। तृतीय अध्याय का स्तवन बहुत ही उपादेय है । इसकी भाषा और भाव सिद्धांत के प्रतिपादक और बहुत ही मनोहर हैं ।
    आज बहुत से ज्योतिषों ,धार्मिक गुरु और कई तरह के अन्य स्त्रोतों से कर्ज से मुक्त होने के लिये गजेंद्र मोक्ष के पाठ को करने का सुझाव दिया जाता है। ऐसी मान्यता है कि इसका पाठ करने से पित्तर दोष से मुक्ति मिलती है. जो लोग कर्ज से परेशान हैं और उनके लिये कर्ज चुकाना अत्यंत कठिन हैं उन्हें भी गजेंद्र मोक्ष के पाठ से समस्या का समाधान मिलता है । किसी भी तरह के मुश्किल मे घिरे होने पर हमें इस स्त्रोत का पाठ करना चाहिये । इस के पाठ से शीघ्र हीं कोई न कोई रास्ता मिल जाता है । इस पाठ का आरम्भ शुक्ल पक्ष की किसी भी तिथि को कर सकते हैं ।पाठ करते समय आपका मुख पूर्व दिशा की ओर हो । यह पाठ सूर्योदय से पूर्व अर्थात सूर्य निकलने के पहले करने पर अति उत्तम फलदायी होता है।

    Digital Distribution & Promotion By: Ziiki Media
    [
    For Business Queries Email:
    (contact@ziikimedia.com)


    LIKE || COMMENT || SHARE || SUBSCRIBE

    #Bhakti #गुरुवारस्पेशल #गजेंद्रमोक्ष

  • श्री भागवत भगवान की है आरती पापियों को पाप से है तारती/तबला वादक रामध्यान गुप्ता जी गायक नीरज पांडे

    3:20

    कीबोर्ड नीरज पांडेय जी 7905960052
    तबला वादक रामध्यान गुप्ता जी 9801260084
    पैड जीतू बाबा 9648419964

  • धुल जायेंगे सारे पाप, जब करोगे इस मंत्र का जाप !! लिंगाष्टकम !! Jaya Kishori Ji #BhaktiDarshan

    4:59

    Please watch: आज मंगलवार के दिन इस शक्तिशाली हनुमान चालीसा को सुनने से सभी संकट एवं बुरी नज़रों से रक्षा होती है
    --~--
    धुल जायेंगे सारे पाप, जब करोगे इस मंत्र का जाप !! लिंगाष्टकम !! Jaya Kishori Ji #BhaktiDarshan

    ➤ Song - लिंगाष्टकम
    ➤ Singer - Jaya Kishori Ji, Chetna Sharma
    ➤ Copyright :- Bhakti Darshan

    ♫ भक्तिमय भजन सुनने के लिए सब्सक्राइब करे हमारे यूट्यूब चैनल पर और नयी वीडियो की जानकारी के लिए क्लिक करे नोटिफिकेशन बेल आइकॉन पर,

    ★ ज्यादा जानकारी के विज़िट करे भक्ति दर्शन की वेबसाइट और भक्ति दर्शन एंड्राइड अप्प पर भक्ति दर्शन भक्तों या आध्यात्मिक प्रेमियों के लिए एक अनूठी वेबसाइट है,
    ➤ जहाँ आपको असीमित भजन, लाइव श्रीमद भागवत कथा, राम कथा, भगवान कृष्ण, भगवान गणेश, साईं बाबा, माता दुर्गा, मा लक्ष्मी, भगवान हनुमान और भगवान शिव जैसे विभिन्न देवी देवताओं के भक्ति भजन, कथा, और आरती को सुन सकते हैं।
    ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬

    ☛ भक्तिमय भजन सुनने के लिए क्लिक करे :-

    ☛ भक्ति दर्शन वेबसाइट :-

    ☛भक्ति दर्शन गूगल प्लस :-

    ☛भक्ति दर्शन ब्लॉगर :-

    ☛भक्ति दर्शन फेसबुक :-

    ☛भक्ति दर्शन Twitter :-

  • इस अष्टक को रोज सुनने से आपके जीवन के सारे पाप ख़तम होंगे | श्री कृष्णा अष्टकम

    3:30

    इस अष्टक को रोज सुनने से आपके जीवन के सारे पाप ख़तम होंगे | श्री कृष्णा अष्टकम

    श्री कृष्णाष्टकम्

    भगवान कृष्ण भगवान विष्णु के आठवें अवतार हैं। कृष्ण सर्वोच्च हैं। यह भगवान कृष्ण के सबसे प्यारे स्तोत्रों में से एक है। यह जीवन से अनंत पापों को दूर करता है। भगवान कृष्ण की उच्च आवृत्ति के साथ अपने आप को मिलाये। ऐसा माना जाता है कि जो सुबह इस कृष्ण स्तोत्र का अभ्यास करता है, उसके सभी पाप दूर हो जाते हैं और वह सुखी जीवन व्यतीत करता है।

    वासुदेव सुतम देवम, श्रीकृष्ण के सबसे प्रसिद्ध और लोकप्रिय अष्टकम में से एक है। शब्द अष्टकम (संस्कृत: अष्टकम अक्कम), जिसे अक्सर अष्टकम् भी लिखा जाता है, संस्कृत शब्द अरा से व्युत्पन्न है, जिसका अर्थ है आठ। काव्य रचनाओं के संदर्भ में, ak अष्टकम् ’कविता के एक विशेष रूप से संदर्भित करता है, आठ छंदो में लिखा गया है। श्री कृष्ण अष्टकम् भगवान कृष्ण जन्माष्टमी सहित भगवान कृष्ण के साथ जुड़े लगभग हर कार्यक्रम में सुनाई जाती है। श्री कृष्ण अष्टकम भी विभिन्न कृष्ण मंदिरों में नियमित रूप से बजाया जाता है।

    फायदा:
    • कृष्ण अष्टकम का पाठ हर किसी के लिए सलाह है जो सकारात्मकता की तलाश में है और उच्च और पावन खुशी प्राप्त करना चाहते है।
    • इस मंत्र का जाप करने से युवा, सौंदर्य, खुशी और धन की प्राप्ति होती है, जो जीवन में एक बड़ा बदलाव लाता है।

    || कृष्णाष्टकम् ||

    वसुदेव सुतं देवं कंस चाणूरमर्दनम्
    देवकी परमानन्दं कृष्णं वंदे जगद्गुरुम् ॥ १॥

    अतसी पुष्प संकाशम् हारनूपुर शोभितम्
    रत्नकण्कणकेयूरं कृष्णं वंदे जगद्गुरुम् ॥ २॥

    कुटिलालक संयुक्तं पूर्ण चंद्रनिभाननम्
    विलसत्कुण्डल धरं कृष्णं वंदे जगद्गुरुम् ॥ ३॥

    मंदार गन्धसंयुक्तं चारुहासं चतुर्भुजम्
    बर्हि पिञ्छाव चूडाङ्गं कृष्णं वंदे जगद्गुरुम् ॥ ४॥

    उत्फुल्ल पद्म पत्राक्षं नीलजीमूत सन्निभम्
    यादवानां शिरोरत्नं कृष्णं वंदे जगद्गुरुम् ॥ ५॥

    रुक्मिणी केळिसंयुक्तं पीतांबर सुशोभितम्
    अवाप्त तुलसीगन्धं कृष्णं वंदे जगद्गुरुम् ॥ ६॥

    गोपिकानां कुचद्वन्द्व कुंकुमाङ्कित वक्षसम्
    श्री निकेतं महेष्वासं कृष्णं वंदे जगद्गुरुम् ॥ ७॥

    श्रीवत्साङ्कं महोरस्कं वनमाला विराजितम्
    शङ्ख चक्रधरं देवं कृष्णं वंदे जगद्गुरुम् ॥ ८॥

    कृष्णाष्टकमिदं पुण्यं प्रातरुत्थाय यः पठेत् |
    कोटि जन्म कृतं पापं स्मरणेन विनष्यति ॥ ९॥

    || ॐ कृष्णाष्टकम् ||

    #Shishir #Krishnashtak #कृष्णा_अष्टक

    YouTube पर विशेष भक्ति सामग्री के लिए बेहतरीन गंतव्यों में आपका स्वागत है। विश्वास, धर्म, भक्ति ये केवल शब्द नहीं हैं, वे हमारे अधिकांश के लिए जीवन का एक तरीका हैं। हमारे जैसे बहु सांस्कृतिक देश में, हमारे पास सद्भाव में एक साथ रहने वाले विभिन्न धर्मों के विश्वासियों और अनुयायियों हैं। हम में से अधिकांश के लिए, धर्म वह है जो हम अभ्यास करते हैं या नियमित रूप से पालन करना चाहते हैं; यही कारण है कि हमारा भक्ति चैनल इस आवश्यक आवश्यकता को पूरा करता है। भजन से लेकर लाइव आरती तक, भक्ति गीत दुनिया भर में दर्शकों की एक विस्तृत श्रृंखला के लिए प्रीमियम भक्ति सामग्री प्रदान करता है।। इसके अलावा, यह गाने, आरती, भजन, मंत्र, और बहुत कुछ जैसे धार्मिक संगीत सामग्री सुनने और समर्पित करने के लिए एक मंच भी प्रदान करता है। भारत की पवित्र भूमि से भक्ति गीत, आरती, भजन और श्लोकों के साथ अपनी आत्मा को ऊपर उठाएं।

    प्रतिदिन इस तरह के मनभावन वीडियो की सूचना पाने के लिए हमारे चैनल की सदस्यता लें। (Subscribe करें)

  • अपने किये हुए पाप और भूलो की क्षमा के लिए मंत्र | श्री शिवा अपराध क्षमापना स्तोत्रम

    14:02

    अपने किये हुए पाप और भूलो की क्षमा के लिए मंत्र | श्री शिवा अपराध क्षमापना स्तोत्रम

    स्तोत्र के बोल :

    आदौ कर्मप्रसङ्गात्कलयति कलुषं मातृकुक्षौ स्थितं मां
    विण्मूत्रामेध्यमध्ये कथयति नितरां जाठरो जातवेदाः |
    यद्यद्वै तत्र दुःखं व्यथयति नितरां शक्यते केन वक्तुं
    क्षन्तव्यो मेऽपराधः शिव शिव शिव भो श्री महादेव शम्भो ||1||

    बाल्ये दुःखातिरेको मललुलितवपुः स्तन्यपाने पिपासा
    नो शक्तश्चेन्द्रियेभ्यो भवगुणजनिताः जन्तवो मां तुदन्ति |
    नानारोगादिदुःखाद्रुदनपरवशः शङ्करं न स्मरामि
    क्षन्तव्यो मेऽपराधः शिव शिव शिव भो श्री महादेव शम्भो ||2||

    प्रौढोऽहं यौवनस्थो विषयविषधरैः पञ्चभिर्मर्मसन्धौ
    दष्टो नष्टोऽविवेकः सुतधनयुवतिस्वादुसौख्ये निषण्णः |
    शैवीचिन्ताविहीनं मम हृदयमहो मानगर्वाधिरूढं
    क्षन्तव्यो मेऽपराधः शिव शिव शिव भो श्री महादेव शम्भो ||3||

    वार्धक्ये चेन्द्रियाणां विगतगतिमतिश्चाधिदैवादितापैः
    पापै रोगैर्वियोगैस्त्वनवसितवपुः प्रौढहीनं च दीनम् |
    मिथ्यामोहाभिलाषैर्भ्रमति मम मनो धूर्जटेर्ध्यानशून्यं
    क्षन्तव्यो मेऽपराधः शिव शिव शिव भो श्री महादेव शम्भो ||4||

    नो शक्यं स्मार्तकर्म प्रतिपदगहनप्रत्यवायाकुलाख्यं
    श्रौते वार्ता कथं मे द्विजकुलविहिते ब्रह्ममार्गेऽसुसारे |
    ज्ञातो धर्मो विचारैः श्रवणमननयोः किं निदिध्यासितव्यं
    क्षन्तव्यो मेऽपराधः शिव शिव शिव भो श्री महादेव शम्भो ||5||

    स्नात्वा प्रत्यूषकाले स्नपनविधिविधौ नाहृतं गाङ्गतोयं
    पूजार्थं वा कदाचिद्बहुतरगहनात्खण्डबिल्वीदलानि |
    नानीता पद्ममाला सरसि विकसिता गन्धधूपैः त्वदर्थं
    क्षन्तव्यो मेऽपराधः शिव शिव शिव भो श्री महादेव शम्भो ||6||

    दुग्धैर्मध्वाज्युतैर्दधिसितसहितैः स्नापितं नैव लिङ्गं
    नो लिप्तं चन्दनाद्यैः कनकविरचितैः पूजितं न प्रसूनैः |
    धूपैः कर्पूरदीपैर्विविधरसयुतैर्नैव भक्ष्योपहारैः
    क्षन्तव्यो मेऽपराधः शिव शिव शिव भो श्री महादेव शम्भो ||7||

    ध्यात्वा चित्ते शिवाख्यं प्रचुरतरधनं नैव दत्तं द्विजेभ्यो
    हव्यं ते लक्षसङ्ख्यैर्हुतवहवदने नार्पितं बीजमन्त्रैः |
    नो तप्तं गाङ्गातीरे व्रतजननियमैः रुद्रजाप्यैर्न वेदैः
    क्षन्तव्यो मेऽपराधः शिव शिव शिव भो श्री महादेव शम्भो ||8||

    स्थित्वा स्थाने सरोजे प्रणवमयमरुत्कुम्भके (कुण्डले)सूक्ष्ममार्गे
    शान्ते स्वान्ते प्रलीने प्रकटितविभवे ज्योतिरूपेऽपराख्ये |
    लिङ्गज्ञे ब्रह्मवाक्ये सकलतनुगतं शङ्करं न स्मरामि
    क्षन्तव्यो मेऽपराधः शिव शिव शिव भो श्री महादेव शम्भो ||9||

    नग्नो निःसङ्गशुद्धस्त्रिगुणविरहितो ध्वस्तमोहान्धकारो
    नासाग्रे न्यस्तदृष्टिर्विदितभवगुणो नैव दृष्टः कदाचित् |
    उन्मन्याऽवस्थया त्वां विगतकलिमलं शङ्करं न स्मरामि
    क्षन्तव्यो मेऽपराधः शिव शिव शिव भो श्री महादेव शम्भो ||10||

    चन्द्रोद्भासितशेखरे स्मरहरे गङ्गाधरे शङ्करे
    सर्पैर्भूषितकण्ठकर्णयुगले (विवरे)नेत्रोत्थवैश्वानरे |
    दन्तित्वक्कृतसुन्दराम्बरधरे त्रैलोक्यसारे हरे
    मोक्षार्थं कुरु चित्तवृत्तिमचलामन्यैस्तु किं कर्मभिः ||11||

    किं वाऽनेन धनेन वाजिकरिभिः प्राप्तेन राज्येन किं
    किं वा पुत्रकलत्रमित्रपशुभिर्देहेन गेहेन किम् |
    ज्ञात्वैतत्क्षणभङ्गुरं सपदि रे त्याज्यं मनो दूरतः
    स्वात्मार्थं गुरुवाक्यतो भज मन श्रीपार्वतीवल्लभम् ||12||

    आयुर्नश्यति पश्यतां प्रतिदिनं याति क्षयं यौवनं
    प्रत्यायान्ति गताः पुनर्न दिवसाः कालो जगद्भक्षकः |
    लक्ष्मीस्तोयतरङ्गभङ्गचपला विद्युच्चलं जीवितं
    तस्मात्त्वां (मां)शरणागतं शरणद त्वं रक्ष रक्षाधुना ||13||

    वन्दे देवमुमापतिं सुरगुरुं वन्दे जगत्कारणं
    वन्दे पन्नगभूषणं मृगधरं वन्दे पशूनां पतिम् |
    वन्दे सूर्यशशाङ्कवह्निनयनं वन्दे मुकुन्दप्रियं
    वन्दे भक्तजनाश्रयं च वरदं वन्दे शिवं शङ्करम् ||14||

    गात्रं भस्मसितं च हसितं हस्ते कपालं सितं
    खट्वाङ्गं च सितं सितश्च वृषभः कर्णे सिते कुण्डले |
    गङ्गाफेनसिता जटा पशुपतेश्चन्द्रः सितो मूर्धनि
    सोऽयं सर्वसितो ददातु विभवं पापक्षयं सर्वदा ||15||

    करचरणकृतं वाक्कायजं कर्मजं वा
    श्रवणनयनजं वा मानसं वाऽपराधम् |
    विहितमविहितं वा सर्वमेतत्क्ष्मस्व
    शिव शिव करुणाब्धे श्री महादेव शम्भो ||16||

    || इति श्रीमद् शङ्कराचार्यकृत शिवापराधक्षमापण स्तोत्रं सम्पूर्णम् ||

    #Shishir #ShivaStotram #शिव_स्तोत्रम

    YouTube पर विशेष भक्ति सामग्री के लिए बेहतरीन गंतव्यों में आपका स्वागत है। विश्वास, धर्म, भक्ति ये केवल शब्द नहीं हैं, वे हमारे अधिकांश के लिए जीवन का एक तरीका हैं। हमारे जैसे बहु सांस्कृतिक देश में, हमारे पास सद्भाव में एक साथ रहने वाले विभिन्न धर्मों के विश्वासियों और अनुयायियों हैं। हम में से अधिकांश के लिए, धर्म वह है जो हम अभ्यास करते हैं या नियमित रूप से पालन करना चाहते हैं; यही कारण है कि हमारा भक्ति चैनल इस आवश्यक आवश्यकता को पूरा करता है। भजन से लेकर लाइव आरती तक, भक्ति गीत दुनिया भर में दर्शकों की एक विस्तृत श्रृंखला के लिए प्रीमियम भक्ति सामग्री प्रदान करता है।। इसके अलावा, यह गाने, आरती, भजन, मंत्र, और बहुत कुछ जैसे धार्मिक संगीत सामग्री सुनने और समर्पित करने के लिए एक मंच भी प्रदान करता है। भारत की पवित्र भूमि से भक्ति गीत, आरती, भजन और श्लोकों के साथ अपनी आत्मा को ऊपर उठाएं।

    प्रतिदिन इस तरह के मनभावन वीडियो की सूचना पाने के लिए हमारे चैनल की सदस्यता लें। (Subscribe करें)

  • Bhaje Vrajaika Mandanam | भजे व्रजैका मंडनं समस्त पाप खण्डनं | Bhajan By Thakurji

    8:19

    Official Name: Krsnastakam
    Bhaje Vrajaika Mandanam Samasta Papa Khandanam भजे व्रजैका मंडनं समस्त पाप खण्डनं By Shri Krishna Chandra Shastri (Thakur ji) maharaj at Bhagwat Katha saptah Gwalior (M.P.)

    Katha Vachak- Shri Krishna Chandra Shastri (Thakur ji)
    Program - Bhagwat Katha Spatah
    Place- Morar, Gwalior (M.P.)
    Organised By- Adv. R. D. Sharma and Family
    Date- Oct-Nov 2016


    ======================================================
    Like on Facebook:

  • x
  • हम से पाप कौन करवाता है? #Jigyasa #Paap #Sin

    5:11

    visit :
    दासाभास डॉ गिरिराज नांगिया जी द्वारा जिज्ञासाओं का समाधान ।।
    संपर्क : 9837041415
    श्रीहरिनाम प्रेस , वृन्दावन ।।

    यदि आपके मन में कोई भी धार्मिक जिज्ञासा या वृन्दावन धाम से जुडी बात जानने की इच्छा हो तो कृपया हमारे
    Whatsapp Number 9837041415
    Par apni Jigyasa Bheje.. या हमारी website par click kar sakte hai.



    !!!Jai Shri Radhe !!!
    !!! Jai Nitai !!!

  • शत्रुनाशक नील सरस्वती स्तोत्र - Neel Saraswati Stotra - Prem Prakesh Dubey - Spiritual Activity

    5:12

    शत्रुनाशक नील सरस्वती स्तोत्र - Neel Saraswati Stotra - Prem Prakesh Dubey - Spiritual Activity


    SubscribeNow:



    2547


    Watch Neel Saraswati Stotra from the Spiritual Activity,


    Most Popular Mantra Collection :-

    Vrat Katha, Vidhi And Mantra :-

    Shree Ram Vandana :-

    Hanuman Vandana :-


    Soulful Chants of Neel Saraswati Stotra By Prem Prakesh Dubey



    Song : Neel Saraswati Stotra
    Singer : Prem Prakesh Dubey ( 9869791709 )
    Music : Prem Prakesh Dubey

  • सकाळी शिव तांडव स्तोत्रम ऐकल्याने तुमचे सर्व दुःख/पाप नाश होतील व सर्व मनोकामना पूर्ण होतील

    18:01

    Title- Shiv Tandav Stotram | शिवतांडव स्तोत्रम | Shiva Stotra
    Singer - Shubhangi Joshi
    Label - Ahuja Music

    Shiv Tandav Stotra -
    जटा टवी गलज्जल प्रवाह पावितस्थले, गलेऽवलम्ब्य लम्बितां भुजङ्ग तुङ्ग मालिकाम् |
    डमड्डमड्डमड्डमन्निनाद वड्डमर्वयं, चकार चण्डताण्डवं तनोतु नः शिवः शिवम् ||१||

    जटा कटा हसंभ्रम भ्रमन्निलिम्प निर्झरी, विलो लवी चिवल्लरी विराजमान मूर्धनि |
    धगद् धगद् धगज्ज्वलल् ललाट पट्ट पावके किशोर चन्द्र शेखरे रतिः प्रतिक्षणं मम ||२||

    धरा धरेन्द्र नंदिनी विलास बन्धु बन्धुरस् फुरद् दिगन्त सन्तति प्रमोद मानमानसे |
    कृपा कटाक्ष धोरणी निरुद्ध दुर्धरापदि क्वचिद् दिगम्बरे मनो विनोदमेतु वस्तुनि ||३||

    लता भुजङ्ग पिङ्गलस् फुरत्फणा मणिप्रभा कदम्ब कुङ्कुमद्रवप् रलिप्तदिग्व धूमुखे |
    मदान्ध सिन्धुरस् फुरत् त्वगुत्तरीयमे दुरे मनो विनोद मद्भुतं बिभर्तु भूतभर्तरि ||४||

    सहस्र लोचनप्रभृत्य शेष लेखशेखर प्रसून धूलिधोरणी विधूस राङ्घ्रि पीठभूः |
    भुजङ्ग राजमालया निबद्ध जाटजूटक श्रियै चिराय जायतां चकोर बन्धुशेखरः ||५||

    ललाट चत्वरज्वलद् धनञ्जयस्फुलिङ्गभा निपीत पञ्चसायकं नमन्निलिम्प नायकम् |
    सुधा मयूखले खया विराजमानशेखरं महाकपालिसम्पदे शिरोज टालमस्तु नः ||६||

    कराल भाल पट्टिका धगद् धगद् धगज्ज्वल द्धनञ्जयाहुती कृतप्रचण्ड पञ्चसायके |
    धरा धरेन्द्र नन्दिनी कुचाग्र चित्रपत्रक प्रकल्प नैक शिल्पिनि त्रिलोचने रतिर्मम |||७||

    नवीन मेघ मण्डली निरुद् धदुर् धरस्फुरत्- कुहू निशीथि नीतमः प्रबन्ध बद्ध कन्धरः |
    निलिम्प निर्झरी धरस् तनोतु कृत्ति सिन्धुरः कला निधान बन्धुरः श्रियं जगद् धुरंधरः ||८||

    प्रफुल्ल नीलपङ्कज प्रपञ्च कालिम प्रभा- वलम्बि कण्ठकन्दली रुचिप्रबद्ध कन्धरम् |
    स्मरच्छिदं पुरच्छिदं भवच्छिदं मखच्छिदं गजच्छि दांध कच्छिदं तमंत कच्छिदं भजे ||९||

    अखर्व सर्व मङ्गला कला कदंब मञ्जरी रस प्रवाह माधुरी विजृंभणा मधुव्रतम् |
    स्मरान्तकं पुरान्तकं भवान्तकं मखान्तकं गजान्त कान्ध कान्त कं तमन्त कान्त कं भजे ||१०||

    जयत् वदभ्र विभ्रम भ्रमद् भुजङ्ग मश्वस – द्विनिर्ग मत् क्रमस्फुरत् कराल भाल हव्यवाट् |
    धिमिद्धिमिद्धिमिध्वनन्मृदङ्गतुङ्गमङ्गल ध्वनिक्रमप्रवर्तित प्रचण्डताण्डवः शिवः ||११||

    स्पृषद्विचित्रतल्पयोर्भुजङ्गमौक्तिकस्रजोर्- – गरिष्ठरत्नलोष्ठयोः सुहृद्विपक्षपक्षयोः |
    तृष्णारविन्दचक्षुषोः प्रजामहीमहेन्द्रयोः समप्रवृत्तिकः ( समं प्रवर्तयन्मनः) कदा सदाशिवं भजे ||१२||

    कदा निलिम्पनिर्झरीनिकुञ्जकोटरे वसन् विमुक्तदुर्मतिः सदा शिरः स्थमञ्जलिं वहन् |
    विमुक्तलोललोचनो ललामभाललग्नकः शिवेति मंत्रमुच्चरन् कदा सुखी भवाम्यहम् ||१३||

    इदम् हि नित्यमेवमुक्तमुत्तमोत्तमं स्तवं पठन्स्मरन्ब्रुवन्नरो विशुद्धिमेतिसंततम् |
    हरे गुरौ सुभक्तिमाशु याति नान्यथा गतिं विमोहनं हि देहिनां सुशङ्करस्य चिंतनम् ||१४||

    पूजा वसान समये दशवक्त्र गीतं यः शंभु पूजन परं पठति प्रदोषे |
    तस्य स्थिरां रथगजेन्द्र तुरङ्ग युक्तां लक्ष्मीं सदैव सुमुखिं प्रददाति शंभुः ||१५||

    इति श्रीरावण- कृतम् शिव- ताण्डव- स्तोत्रम् सम्पूर्णम्


    Welcome to Bhakti World channel, one of the finest destinations for exclusive Devotional content on YouTube.

    This is the destination for the best of Hindu devotional tracks. Find a wide selection of Lord Shiva, Krishna, Ganesha music and many more. Listen to these peaceful tunes and go into a soothing trance of melody Faith, Religion, Devotion what we need to or want to follow regularly our Devotional channel caters to this very essential need of all. Bhakti World has a vast collection of Various Bhajans,Shloks,Tantras,Chalisas ,Live Aarti ,Devotional Songs which feel you to go beyond devotions. It is the central relationship between the Divine and Devotee. So find your spiritual path only with our channel and we would take you on a Bhakti Marga of spirituality and Peace. So, surrender yourself to god only with Bhakti World.
    तुमच्याकडे Audio किंवा Video असेल तर तुम्ही आम्हाला पाठवू शकता
    या ईमेल आयडीवर ahujamusic9111@gmail.com आम्ही त्याला Youtube वर प्रकाशित करू ..

    Like * Comment * Share - Don't forget to LIKE the video and write your COMMENT's
    Subscribe Us :

  • अनजाने में किये हुये पाप का प्रायश्चित कैसे करे ?

    2:49

    My Vlog Channel Link-



    My Tech Channel Link-


    Follow On Instagram-



    Follow On Twitter-

  • श्री मयूरेश स्तोत्र | गणपति मयूरेश स्तोत्र | यह स्तोत्र चिन्ता एवं रोग मिटाने वाला है | Mayuresh |

    3:31

    #मयुरेशस्तोत्र#गणपतिस्तोत्र#स्तोत्र

    श्री मयूरेश स्तोत्र
    गणपति मयूरेश स्तोत्र
    यह स्तोत्र चिन्ता एवं रोग मिटाने वाला है |
    इसके माहात्म्य में लिखा हुआ है
    यह स्तोत्र ब्रह्मभाव को प्रकट करता है | पापो का विनाश करता है |
    मनुष्यो की सभी मनोकामनाओ को पूर्ण करता है |
    सभी उपद्रवों को नाश करता है |
    सिर्फ सात दिन इसका पाठ करने से निर्दोष कारागर में पड़ा हुआ व्यक्ति मुक्त हो जाता है |
    यह शुभ स्तोत्र मानसिक पीड़ाओं को दूर करता है |
    शरीर के सभी रोगो का विनाश करता है |
    भोग और मोक्ष प्रदान करता है |
    ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
    Ganpati Mayuresh Stotram

    ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
    Watch & Listen More Videos

    Tantrik lakshmi kavach


    Shree Ramraksha Stotra


    Lakshmi Mala Mantra


    Rahu kavach


    Shani vajrapanjar kavach


    Shukra kavach


    Bruhaspati kavach


    Budha Kavach


    Mangal Kavach


    Chandra kavach


    Surya Kavach


    Surya 12 Naam


    Durga Saptshloki


    Samputik Shrisuktam


    Runharta ganesh stotra


    Pashupatastra mantra


    Pragyavardhan Stotra


    Narayan Kavach


    Mahamrityunjaya Stotra


    Ganesh runmukti mantra 108 times


    Lalita 108 namavali


    Ganesh Lakshmi stotra


    Aparjita stotra


    Mahalakshmi 184 Naam


    Pitru stotra


    Sarvarishta nivaran stotra

    --------------------------------------------------------------------------------------------------------------
    Ganpati Mayuresh Stotra With Lyrics
    Vocals: Anand Pathak ( Acharya )
    Editor: Anand Pathak ( Acharya )
    Mail ID: anandbijal8587@gmail.com
    Music Harshal-Ujjwal
    Mixing & Mastering: Cadence Music Production
    Music Label: Mantra-Stotra by Anand Pathak
    Email : anandbijal8587@gmail.com
    --------------------------------------------------------------------------------------------------------------

  • SHREE BHAKTAMBER STOTRA HINDI PANDIT KAMAL STALLONE GROUP

    41:57

    भक्त अमर नत मुकुट सु-मणियों, की सु-प्रभा का जो भासक।
    पाप रूप अति सघन तिमिर का, ज्ञान-दिवाकर-सा नाशक॥

  • काम क्रोध नाशक महामंत्र | Durga Argala Stotram | श्रीदुर्गा अर्गलास्तोत्रम | प्रेम प्रकाश दुबे

    5:17

    काम क्रोध नाशक महामंत्र | Shree Durga Argala Stotram | श्रीदुर्गा अर्गलास्तोत्रम | प्रेम पक्ष दुबे

    Album Name: श्रीदुर्गा अर्गलास्तोत्रम

    Singer: Prem Parkash Dubey

    Copyright: Shubham Audio Video

    Vendor: A2Z Music Media

    Watch - श्रीदुर्गा अर्गलास्तोत्रम

    Subscribe Our Channel For More Updates:
    If You like the video don't forget to share with others & also share your views.

    ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬
    FOR LATEST UPDATES :
    ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬

    CALLER TUNE..............

    Airtel Direct dial : 5432116255577

    BSNL South/ East (Send to 56700): BT 9556932

    Idea Direct dial: 567899556932

    Reliance Send to 51234: CT 9556932

    Vodafone- Direct dial: 5379556932


    Like us on Facebook :

    Join Us Google+ :

    Visit Us Website :

    Follow Us Twitter :

    Follow Us Pinterest :

  • आरती श्री भागवत भगवान | सभी पाप को नष्ट करने वाला आरती | जरूर सुनें | देवेंद्र पाठक | Sonotek

    7:08

    भक्ति पूर्ण गानों के लिए क्लिक करें |
    Singer - Avadh Ratn Baba Devender Das Devendra Pathak 9918864820, 8318308580
    Music - KJ Singh
    Label - Sonotek Cassettes
    Contact Person - Ankit Vij 09899429419, Leela Krishan Ji (09212183337 )
    Mail Us - sonotekaudio@gmail.com
    Facebook subscribe :
    Like us:
    follow us :

  • मनोकामनाओं को पूर्ण करने वाला - Vishwanath Mangal Stotram - श्री विश्वनाथ मंगल स्तोत्रम - P P Dubey

    7:24

    Spiritual Activity SAV - 2418 _TR222
    Subscribe Now :-

    Singer : Prem Prakash Dubey ( 9869791709 )
    Lyrics : Traditional
    Music : Prem Prakash Dubey
    Song : Shri Vishwanath Mangal Stotram
    Music Label : Spiritual Activity

    Digital Partner: Vianet Media Pvt. Ltd
    Stay Connected With Us!!!
    Like Us On Facebook :

    #Vishwanath #shivstotram #VishwanathMangalStotram

    मनोकामनाओं को पूर्ण करने वाला - Vishwanath Mangal Stotram - श्री विश्वनाथ मंगल स्तोत्रम - Prem Prakesh Dubey

    इस विश्वनाथ मंगल स्तोत्रम को सुनिए LIKE करे, COMMENT करे और SHARE जरूर करे

    Spiritual Activity Channel, we offer mantras, chants, stotram, Sahastranam,

    Start your day with Spiritual Activity to bring peace to your soul.we offer mantras, chants, stotram, Sahastranam and Devotional Songs.Don’t Forget to Subscribe to this Channel for more Bhajan, Devotional Songs.

    ऐसे ही मंत्र, स्त्रोतम, सहस्त्रनाम, नामावली, अष्टकम और भक्तिमय गानो को सुनने के लिए आपके अपने चैनल Spiritual Activity को SUBSCRIBE करे और ज्यादा से ज्यादा Share कीजिये

    Most Popular Mantra Collection :-
    Vrat Katha, Vidhi And Mantra :-
    Shree Ram Vandana :-
    Hanuman Vandana :-

  • गणेश जी का यह भजन सुनने से आप के सारे पाप मिट जायेंगे और मोक्ष की प्राप्ति होगी |

    7:57

    Contact Us :- 9582445552 गणेश जी का यह भजन सुनने से आप के सरे पाप मिट जायेंगे और मोक्ष की प्राप्ति होगी |
    गणेश जी का यह भजन सुनने से आप के सरे पाप मिट जायेंगे और मोक्ष की प्राप्ति होगी |
    गणेश जी का यह भजन सुनने से आप के सरे पाप मिट जायेंगे और मोक्ष की प्राप्ति होगी |
    गणेश जी का यह भजन सुनने से आप के सरे पाप मिट जायेंगे और मोक्ष की प्राप्ति होगी |

    Subscribe to Wave Gujarati - Bhakti :

    Album :-
    Singer :-
    Song :-
    Lyrics :-
    Music Director :-
    Company/ Label :- Wave Gujarati

    Shree, Sri, Shri, Lord, God, Bhagwan, Jai, Jay, Karma, Peace, Value, Sanskar, Hindu, Religion, Sect, Bhajan, Aarti, Song, Chalisa, Praise, Mantra, Meditation, Mind, Enlightenment, Devotional, Guru, Guide, Divine, Force, Temple, Yoga, Dance, Pooja, Archana, Hare, Healing, Master, Teaching, Sanskrit, India, Culture, Daily, Life, Prayer, Ram, Sita, Shiva, Shankar, Ganesh, Ganpati, Krishna, Laxmi, Saraswati, Hanuman, Sai Baba, Kali, Durga, Ambe, Shreenathji, Maa, Hindi, MP3, Download, Stotra, Vishnu, Mahalaxmi, Ramayan, Gayatri, Free, Album, Sangraha

  • Powerful Durga Mantra | Paap Nash evam Bhakti Prapti Mantra | with Sanskrit text

    2:03

    Powerful Mantra for Destruction of Sins and Obtaining Divine Blessings (पाप नाश एवं भक्ति प्राप्ति मंत्र )

    LYRICS:
    natebhyah sarvada bhaktya, chandike duritapahe
    roopam dehi jayam dehi, yasho dehi dvisho jahi |

    नतेभ्यः सर्वदा भक्त्या चण्डिके दुरितापहे
    रूपं देहि जयं देहि यशो देहि द्विषो जहि |


    Track: Paap Nash Evam Bhakti Praapti Mantra (for Divine Blessings)
    Artist: Jitender Singh
    Album: Moksha - 25 Mantras for Health, Happiness and Prosperity


    Download links:








  • माँ वैष्णो के इस भजन को सुनने से हर पाप का नाश होता है ||धाम तेरा सबसे प्यारा

    4:35

    अगर आप Bhojpuri Video को पसंद करते हैं तो Plz चैनल को Subscribe करें- Subscribe Now:-


    माँ वैष्णो के इस भजन को सुनने से हर पाप का नाश होता है ||धाम तेरा सबसे प्यारा

    माँ वैष्णो के इस भजन को सुनने से हर पाप का नाश होता है ||धाम तेरा सबसे प्यारा

    माँ वैष्णो के इस भजन को सुनने से हर पाप का नाश होता है ||धाम तेरा सबसे प्यारा

    माँ वैष्णो के इस भजन को सुनने से हर पाप का नाश होता है ||धाम तेरा सबसे प्यारा

    माँ वैष्णो के इस भजन को सुनने से हर पाप का नाश होता है ||धाम तेरा सबसे प्यारा

    माँ वैष्णो के इस भजन को सुनने से हर पाप का नाश होता है ||धाम तेरा सबसे प्यारा

    Download Wave Music official app from Google Play Store -

    Visit our website to download our songs and videos:

    Like Us On Facebook -


    Album - Dhaam Tera Sabse Pyara
    Singer - Anu Dubey
    Song - Dhaam Tera Sabse Pyara
    Lyrics - R. R pankaj
    Label :- Wave Music

  • Durga Argala Stotram | काम क्रोध नाशक महामंत्र | श्रीदुर्गा अर्गलास्तोत्रम | प्रेम प्रकाश दुबे

    5:17

    New Kali Mata Mantra || Durga Argala Stotram || काम क्रोध नाशक महामंत्र || श्रीदुर्गा अर्गलास्तोत्रम | प्रेम प्रकाश दुबे

    Video Name - Durga Argala Stotram

    Singer - PREM PRAKASH DUBEY

    Lyrics - Traditional

    Copyright - Subham Audio Video

    Watch Durga Argala Stotram From Prem Prakash Dubey.

    ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬
    FOR LATEST UPDATES :
    ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬

    CALLER TUNE..............

    Airtel Direct dial : 5432116255577

    BSNL South/ East (Send to 56700): BT 9556932

    Idea Direct dial: 567899556932

    Reliance Send to 51234: CT 9556932

    Vodafone- Direct dial: 5379556932


    Click On To Subscribe

    Subscribe Now:

    Join Us Google+ :

    Blogger:

  • !! Anil Nagori !! झुठ बराबर पाप नही है सांच बराबर तप कोन्या !! अनिल नागौरी !!

    11:29

    Presente by Nmg studio Nokha

    singer Anil Nagori

    music Nmg studio nokha

    music by Anil Nagori

    Vidio / Audio /editor by prem indlia

    nmg studio mo. 9983583566/8094604264
    Instagram account

  • श्री विश्वनाथ मंगल स्तोत्रम !! Shri Vishwanath Mangal Stotram !! Prem Prakash Dubey

    7:07

    श्री विश्वनाथ मंगल स्तोत्रम !! Shri Vishwanath Mangal Stotram !! Prem Prakash Dubey

    SAV2418_Tr222
    Subscribe :-
    Mantra - श्री विश्वनाथ मंगल स्तोत्रम
    Singer - Prem Prakash Dubey
    Lyrics - Traditional
    Music Label - Ambey
    Digital Parter- Vianet Media Pvt. Ltd

    Stay Connected With Us!!!!
    Subscribe :-

    Stay Tuned With:
    Ganna :
    Hungama :
    Saavn :
    Wynk Music :
    ITunes :

    Make Caller Tune
    Vodafone / Idea Subscriber : Dial
    BSNL(SE) Subscribe : Send SMS To 56700
    BSNL(NW) Subscribe : Send SMS To 56700

  • ऐसा करने से सभी जन्मो के पाप उसी क्षण नष्ट हो जाते है

    22:16

    स्वामी जी का लाइव वीडियो देखे :- पाठ पुजा या भागवत भजन करने वालो को ही ज्यादा दुख कष्ट क्यो आता है।।जैसे मीरा बाई । --~--
    स्वामी श्री क्षमाराम जी महाराज के इन प्रवचनो का भी जरूर लाभ ले!
    My Smart चैनल को भी subscribe जरूर करे
    मै हमेशा इस चैनल पर भी अच्छे-अच्छे प्रवचन अपलोड करता रहता हूं
    हमेशा हर समय भगवान मे मन कैसे लगे -:

    हमेशा खुश रहो :-

    परोपकार :-

    निष्काम भाव की दवाई :-

    स्वामी जी की बात मे दम है हकीकत मे उनती कैसे हो , किसी भी काम या भक्ति मे! :-

    सन्तो पर लोग कैसे कैसे आरोप लगातेहै :-

    राम, कृष्ण, हरि, ॐ इन भगवान के नामो मे से किस नाम की श्रेष्ठ महा महिमा है -:

    तीर्थ स्थल पर किन - किन नियमो का पालन करना चाहिए :-

    साधु व गृहस्थी मे कितना अन्तर है :-

    ऐसी बाते केवल भगवान ही कह सकते है हम लोगो के वस की नही है यह बाते! :-

    हमारी व संसार की हकीकत मे सच्चाई क्या है :-

    भगवान के सामने ऐसे रोये तो काम बन सकता है :-

    संसार से उपराम कैसे हो :-
    यह सभी प्रवचन स्वामी श्री क्षमाराम जी महाराज के है

  • Famous Powerful Gayatri Mantra 108 Times | Om Bhur Bhuva Swaha | गायत्री मंत्र | ओम भूर भुवा स्वाहा

    58:32

    फेमस पावरफुल गायत्री मंत्र १०८ टाइम्स | गायत्री मंत्र | ओम भूर भुवा स्वाहा
    'गायत्री' एक छन्द भी है जो ऋग्वेद के सात प्रसिद्ध छंदों में एक है। इन सात छंदों के नाम हैं- गायत्री, उष्णिक्, अनुष्टुप्, बृहती, विराट, त्रिष्टुप् और जगती। गायत्री छन्द में आठ-आठ अक्षरों के तीन चरण होते हैं। ऋग्वेद के मंत्रों में त्रिष्टुप् को छोड़कर सबसे अधिक संख्या गायत्री छंदों की है। गायत्री के तीन पद होते हैं (त्रिपदा वै गायत्री)। अतएव जब छंद या वाक के रूप में सृष्टि के प्रतीक की कल्पना की जाने लगी तब इस विश्व को त्रिपदा गायत्री का स्वरूप माना गया। जब गायत्री के रूप में जीवन की प्रतीकात्मक व्याख्या होने लगी तब गायत्री छंद की बढ़ती हुई महिता के अनुरूप विशेष मंत्र की रचना हुई, जो इस प्रकार है:

    ॐ भूर् भुवः सुवः ।
    तत्सवितुर्वरेण्यं
    भर्गो॑ देवस्यधीमहि ।
    धियो यो नः प्रचोदयात् ॥

    मंत्र के प्रत्येक शब्द की व्याख्या
    गायत्री मंत्र के पहले नौ शब्द प्रभु के गुणों की व्याख्या करते हैं...
    ॐ = प्रणव
    भूर = मनुष्य को प्राण प्रदाण करने वाला
    भुवः = दुख़ों का नाश करने वाला
    स्वः = सुख़ प्रदाण करने वाला
    तत = वह, सवितुर = सूर्य की भांति उज्जवल
    वरेण्यं = सबसे उत्तम
    भर्गो = कर्मों का उद्धार करने वाला
    देवस्य = प्रभु
    धीमहि = आत्म चिंतन के योग्य (ध्यान)
    धियो = बुद्धि, यो = जो, नः = हमारी,
    प्रचोदयात् = हमें शक्ति दें (प्रार्थना)

    हिन्दी में भावार्थ
    उस प्राणस्वरूप, दुःखनाशक, सुखस्वरूप, श्रेष्ठ, तेजस्वी, पापनाशक, देवस्वरूप परमात्मा को हम अपनी अन्तरात्मा में धारण करें। वह परमात्मा हमारी बुद्धि को सन्मार्ग में प्रेरित करे।

    मंत्र जप के लाभ

    गायत्री मंत्र का नियमित रुप से सात बार जप करने से व्यक्ति के आसपास नकारात्मक शक्तियाँ बिलकुल नहीं आती।
    जप से कई प्रकार के लाभ होते हैं, व्यक्ति का तेज बढ़ता है और मानसिक चिंताओं से मुक्ति मिलती है।[1] बौद्धिक क्षमता और मेधाशक्ति यानी स्मरणशक्ति बढ़ती है।
    गायत्री मंत्र में चौबीस अक्षर होते हैं, यह 24 अक्षर चौबीस शक्तियों-सिद्धियों के प्रतीक हैं।
    इसी कारण ऋषियों ने गायत्री मंत्र को सभी प्रकार की मनोकामना को पूर्ण करने वाला बताया है।

    यह मंत्र सर्वप्रथम ऋग्वेद में उद्धृत हुआ है। इसके ऋषि विश्वामित्र हैं और देवता सविता हैं। वैसे तो यह मंत्र विश्वामित्र के इस सूक्त के १८ मंत्रों में केवल एक है, किंतु अर्थ की दृष्टि से इसकी महिमा का अनुभव आरंभ में ही ऋषियों ने कर लिया था और संपूर्ण ऋग्वेद के १० सहस्र मंत्रों में इस मंत्र के अर्थ की गंभीर व्यंजना सबसे अधिक की गई। इस मंत्र में २४ अक्षर हैं। उनमें आठ आठ अक्षरों के तीन चरण हैं। किंतु ब्राह्मण ग्रंथों में और कालांतर के समस्त साहित्य में इन अक्षरों से पहले तीन व्याहृतियाँ और उनसे पूर्व प्रणव या ओंकार को जोड़कर मंत्र का पूरा स्वरूप इस प्रकार स्थिर हुआ:

    (१) ॐ
    (२) भूर्भव: स्व:
    (३) तत्सवितुर्वरेण्यं भर्गो देवस्य धीमहि धियो यो न: प्रचोदयात्।

    मंत्र के इस रूप को मनु ने सप्रणवा, सव्याहृतिका गायत्री कहा है और जप में इसी का विधान किया है।

    Om Bhur Bhuvaḥ Swaḥ
    Tat-savitur Vareñyaṃ
    Bhargo Devasya Dhīmahi
    Dhiyo Yonaḥ Prachodayāt

    Word for Word Meaning of the Gayatri Mantra
    The Gayatri Mantra is unique in that it embodies the three concepts of stotra (singing the praise and glory of God), dhyaana (meditation) and praarthana (prayer).

    Aum = Brahma ;
    bhoor = embodiment of vital spiritual energy(pran) ;
    bhuwah = destroyer of sufferings ;
    swaha = embodiment of happiness ;
    tat = that ;
    savitur = bright like sun ;
    varenyam = best choicest ;
    bhargo = destroyer of sins ;
    devasya = divine ;
    these first nine words (stotra describe the glory of God
    dheemahi = may
    imbibe ; pertains to meditation
    dhiyo = intellect ;
    yo = who ;
    naha = our ;
    prachodayat = may inspire!
    “dhiyo yo na prachodayat” is a prayer to God

    Title - Gayatri Mantra || Om Bhur Bhuva Swaha ॐ भूर्भुवः स्वः || गायत्री मंत्र
    Singer - Minakshi mazumdar
    Lyricist: Traditional
    MUSIC COMPOSERS - Gourab Shome.
    Do comment and share the video with your loved ones.

    Like us on Facebook -
    Follow us on Instagram -
    Find us on in. Pinterest -
    Click Below for More Peaceful & Religious Music Videos -

    * The spiritual nature of music cannot be defined by religion, culture or genre
    * Music and spiritual life go together; one complements the other
    * Music is the mediator between the spiritual and the sensual life.

    Spiritual Mantra for life the best destination for #GayatriMantra #Gayatri #Mantra #Bhajan #Aarti #devotionalsongs #ombhurbhuvaswaha #om #bhur #bhuva #swaha #Mantra #Bhajan #DeviBhajan #DeviAartiSongs #MorningBhajan #SpiritualMantra

  • Man paap karmo ki or kyo bhagta hai?मन पाप कर्मो की और क्यों भागता है?

    4:51

    दासाभास डॉ गिरिराज नांगिया जी द्वारा जिज्ञासाओं का समाधान ।।
    संपर्क : 9068021415 ।।
    श्रीहरिनाम प्रेस , वृन्दावन ।।

  • Shree Durga Argalastotram || श्रीदुर्गा अर्गलास्तोत्रम !

    5:17

    श्रीदुर्गा अर्गलास्तोत्रम ! Durga Argala Stotram With VFX ! क्रोध नाशक महामंत्र ! प्रेम प्रकाश दुबे

    Video - श्रीदुर्गा अर्गलास्तोत्रम

    Singer : Prem Parkash Dubey

    VFX : Mukesh Aryan

    Watch “श्रीदुर्गा अर्गलास्तोत्रम” From Spiritual Activity.

    FOR LATEST UPDATES :
    ----------------------------------
    ✿ Subscribe Now :-

    ✿ Like us on FB :

    ✿ Join us On Google+

    ✿ Follow us on Twitter :

    ✿ Follow us On Dailymotion :


    ✿Follow us On Blogger :

  • यह भजन सुनने से आपके समस्त पापों का नाश होता हैं और सभी असम्भव कार्य सम्भव हो जाते हैं| Maa Kali |

    7:06

    भक्ति Sangam. Present “ Latest New Hit Bhakti Song 2020. We present to you” Song Name Song By Artist Name exclusively on भक्ति Sangam Music


    Title Song :- माँ काली
    Singer :-
    Artist :-
    Lyrics :-
    Music Director :-
    Studio :-
    Video Director :-
    Special Thanks: :-
    Producer :- Sv Music
    Label :- Vns Vcd

    Office Number:- +91- 8802774430
    Music Label & Copyrights :- Full Xpress Network
    Company Website :-
    Mail Us :- svmusicdelhi@gmail.com
    Contact Company (Person) :- +8802774430
    --------------------------------------------------------------------------------------

    Enjoy and stay connected with us!!

    Subscribe SV Music Hindi channel for unlimited entertainment :-


    Like us on Facebook :-


    Circle us on G+ :-


    Follow us on Instagram :-


    Follow us on Twitter :-


    Follow us on Dailymotion :-




    #Bhakti_sangam

  • घर के दुःख कलेशों को दूर करने के लिए सुनें - श्री विश्वनाथाष्टकम् - Shri Vishwanath Ashtakam Stotram

    8:24

    Listen to this Vishwanath Ashtakam Stotram ( Adi Shambhu Swaroop Muniwar ) and Indulge in the bhakti of Shiv Shankar and Get the blessings of Lord Shiva

    इस विश्वनाथ अष्टकम स्तोत्रम (आदि शंभू स्वरूप मुनिवर चंद्रशिश जटाधरं ) को जरूर सुने और ज्यादा से ज्यादा Share कीजिये |

    Spiritual Activity SAV - 4813_TR22597
    Subscribe Now:-

    Singer: Prem Prakash Dubey ( 9869791709 )
    Lyrics: Traditional
    Music: Prem Prakash Dubey
    Song: Shri Vishwanath Ashtakam Stotram
    Music Label: Spiritual Activity
    Digital Partner: Vianet Media Pvt. Ltd

    ****************************
    ♪ Stay Tuned with:
    ♪ ♫ Gaana :
    ♫ Hungama :
    ♫ Saavn :
    ♫ Wynk:
    ♫ Google Play :-
    ♫ I-Tunes :-

    ♪ Make Caller Tune ♪
    ♪ Airtel Subscriber Dial :- 5432117390737
    ♪ Vodafone / Idea Subscriber :- Dial 53711931387
    ♪BSNL(S/E) Subscriber: Send SMS BT 11931387 To 56700
    ♪BSNL(N/W) Subscriber: Send SMS To 56700
    ****************************
    #Vishwanathashtakam #Shivstotram #Shivmantra

    Start your day with Spiritual Activity to bring peace to your soul.we offer mantras, chants, stotram, Sahastranam, and Devotional Songs. Don’t Forget to Subscribe to this Channel for more Bhajan, Devotional Songs.

    ऐसे ही मंत्र, स्त्रोतम, सहस्त्रनाम, नामावली, अष्टकम और भक्तिमय गानो को सुनने के लिए आपके अपने चैनल को Spiritual Activity को SUBSCRIBE करे और ज्यादा से ज्यादा Share कीजिये |

  • Narmadastkam | नर्मदाष्टकम् | दर्शन से नष्ट हो जाते हैं पाप

    5:41

    Please subscribe
    Narmada Ashtakam Composed by Sri Adi Shankaracharya
    Read In sanskrit with meaning


    नर्मदाष्टकम्
    सबिन्दुसिन्धुसुस्खलत् तरङ्ग भङ्गरञ्जितं
    द्विषत्सुपापजातजातकारिवारिसंयुतम् ।
    कृतान्तदूत कालभूत भीतिहारि वर्मदे
    त्वदीयपादपङ्कजं नमामि देवि नर्मदे ॥ १ ॥
    त्वदम्बुलीन दीन मीन दिव्य सम्प्रदायकं
    कलौमलौघ भारहारि सर्वतीर्थनायकम् ।
    सुमत्स्यकच्छ नक्रचक्र चक्रवाक शर्मदे
    त्वदीयपादपङ्कजं नमामि देवि नर्मदे ॥ २ ॥
    महागभीर नीरपूर पापधूत भूतलं
    ध्वनत्ससमस्त पातकारि दारितापदाचलम् ।
    जगल्लये महाभये मृकण्डुसुनूहर्म्यदे
    त्वदीयपादपङ्कजं नमामि देवि नर्मदे ॥ ३ ॥
    गतं तदैव मे भयं त्वदम्बु वीक्षितं यदा
    मृकण्डुसूनुशौनका सुरारिसेविसर्वदा ।
    पुनर्भवाब्धि जन्मजंभवाब्धि दुःखवर्मदे
    त्वदीयपादपङ्कजं नमामि देवि नर्मदे ॥ ४ ॥
    अलक्षलक्ष किन्नरामरासुरादिपूजितं
    सुलक्षनीर तीरधीर पक्षिलक्षकूजितम् ।
    वसिष्ठसिष्ट पिप्पलादि कर्दमादिशर्मदे
    त्वदीयपादपङ्कजं नमामि देवि नर्मदे ॥ ५ ॥
    सनत्कुमार नाचिकेत कश्यपादिषट्पदैः
    धृतं स्वकीयमानसेषु नारदादिषट्पदैः ।
    रवीन्दुरन्तिदेवदेवराजकर्मशर्मदे
    त्वदीयपादपङ्कजं नमामि देवि नर्मदे ॥ ६ ॥
    अलक्षलक्ष लक्षपापलक्ष सायरसायुधं
    ततस्तु जीवजन्तुतन्तु भुक्तिमुक्तिदायकम् ।
    विरश्र्चिविष्णुशङ्कर स्वकीय धामवर्मदे
    त्वदीयपादपङ्कजं नमामि देवि नर्मदे ॥ ७ ॥
    अहोऽमृतं स्वनं श्रुतं महेशकेशजातटे
    किरातसूतवाडवेषु पण्डिते शठे नटे ।
    दुरन्तपापतापहारि सर्वजन्तुशर्मदे
    त्वदीयपादपङ्कजं नमामि देवि नर्मदे ॥ ८ ॥
    इदं तु नर्मदाष्टकं त्रिकालमेव ये सदा
    पठन्ति ते निरन्तरं न यान्ति दुर्गतिं कदा ।
    सुलभ्य देहदुर्लभं महेंशधाम गौरवम्
    पुनर्भवा न वै नरा विलोकयन्ति रौरवम् ॥ ९ ॥
    ॥ इति श्रीमत् आद्यशङ्कराचार्यविरचितं
    नर्मदाष्टकं सम्पूर्णम् ॥

  • 52 Shloki Gurucharitra with Lyrics | बावन्न श्लोकी गुरुचरित्र | ५२ श्लोकी गुरुचरित्र | Gurudev Datta

    10:12

    || Shree Gurudev Datta ||
    Gurucharitra is a very popular and holy scripture read by all followers and worshipers of Shree Dattatreya. The entire granth is spread across 53 Adhyays and followers perform regular parayans, a 7 days reading of the scripture popularly known as Gurucharitra Parayan or Gurucharitra Parayan Saptaha. It is believed that one who performs this Gurucharitra Parayan gets blessings from Gurudev Datta and all of his sorrows and pain fades away. His life is filled with positive thoughts and happiness. 52 Shloki Gurucharitra is the summary of entire Gurucharitra Parayan. It is believed that if a devotee reads this 52 Shloki Gurucharitra, than he or she will be blessed with all blessings and happiness. 52 Shloki Gurucharitra is immensely popular scripture and is read by lakhs of devotees of Gurudev Datta on every Thursdays.

    Swar - Shree Rajendra Vaishampayan

    ●|| ॐ गुरुदेव दत्त ||●
    अत्यंत प्रभावी बावन्नश्लोकी गुरुचरित्र

    श्रीगुरुचरित्र फार मोठे असल्यामुळे दर गुरुवारी अनेक दत्त भक्त कमीत कमी हे बावन्नश्लोकी गुरुचरित्र नेहमी म्हणतात.

    For more videos Subscribe/सुब्स्क्रिब to our channel


    Popular Mantras and Stotras of Gurudev Datta
    ⦿ Sampoorna Gurucharitra (संपूर्ण गुरुचरित्र) :
    ⦿ Datta Bavani -
    ⦿ Datta Upasana -
    ⦿ Gurudev Datta Ashtottarshat Naamavali -
    ⦿ Datta Mahatmya -

    #52ShlokiGurucharitra #Gurucharitra #GurudevDatta

  • दान करना कोई पुण्य कार्य नहीं॰ आपके पाप का प्रायश्चित है। वह कौन सा पाप है जानने के लिए देखिये पूर

    1:11

    पूज्य भाई श्री जी का भजन विडियो kinemaster से बनाना सीखें |Techno Manisha on this link
    My new youtube channel | Techno Manisha UCPiqJ4C-_fyHKrcc8lG52jQ Credis to Sanskar TV
    Special credits to Sandipani Vidyaniketan
    credits to Sandipani tv
    credits to Shri Hari Mandir
    credits to Sandipani Rishikumar Parivar
    credits to Param Pujya Sant Shri Ramesh Bhai Oza Ji
    credits to Param Pujya Sant Shri Shyam Bhai Thakar Ji
    credits to Param Pujya Sant Shri Hardik Bhai Joshi Ji
    credits to Sanskar tv,
    credits to Astha tv

    This is a Krishn Bhakti Ras Channel.here u will find different and latest krishn bhajans,pravachans by P.P.Sant Shri Ramesh Bhai Oza Ji Pujya Bhaishri.

    Link Of My Facebook Page is

    My other youtube channel is Rochak Jankari evam Tathya
    On Rochak Jankari u will find videos based on travel,politics and many other interesting topics This is a Krishn Bhakti Ras Channel.here u will find different and latest krishn bhajans,pravachans by P.P.Sant Shri Ramesh Bhai Oza Ji Pujya Bhaishri and many other popular saints.

    Link Of My Facebook Page is

    My other youtube channel is Rochak Jankari evam Tathya
    On Rochak Jankari u will find videos based on travel,politics and many other interesting topics

  • मंगलवार भक्ति : सुबह सुबह हनुमान की यह वंदना सुनने से रोग दोष और पाप से मुक्ति मिल जाती है || Bhakti

    14:19

    मंगलवार भक्ति : सुबह सुबह हनुमान की यह वंदना सुनने से रोग दोष और पाप से मुक्ति मिल जाती है || Bhakti


    Title : Hanuman Vandna || Kariyo Sahai hanuman deva
    Singer : Hansraj Railhan
    Lyrics : hansraj Railhan
    Music : Sonotek


    Shree, Sri, Shri, Lord, God, Bhagwan, Jai, Jay, Karma, Peace, Value, Sanskar, Hindu, Religion, Sect, Bhajan, Aarti, Song, Chalisa, Praise, Mantra, Meditation, Mind, Enlightenment, Devotional, Guru, Guide, Divine, Force, Temple, Yoga, Dance, Pooja, Archana, Hare, Healing, Master, Teaching, Sanskrit, India, Culture, Daily, Life, Prayer, Ram, Sita, Shiva, Shankar, Ganesh, Ganpati, Krishna, Laxmi, Saraswati, Hanuman, Sai Baba, Kali, Durga, Ambe, Shreenathji, Maa, Hindi, MP3, Download, Stotra, Vishnu, Mahalaxmi, Ramayan, Gayatri, Free, Album, Sangraha




    Label :- Bhajan Kirtan

    Digital Work:- SONOTEK

    Sonotek Owner:- Hansraj Railhan, Leela Krishan, Rajesh Thukral, Ankit Vij

    Office Number:- 011-23268079

    Music Label & Copyrights :- Sonotek Cassettes

    Mail Us :-sonotekaudio@gmail.com

    Contact Company (Person) :- Leela Krishan Ji +91-9212183337
    Contact Company (Person) :- Ankit Vij ------------+91-9899429419

    ------------------------------------------------------------------------------------
    Enjoy and stay connected with us!!

  • ज्योति प्रज्वलन मन्त्र | VIJAYEE BHARAT DIXIT | 2020

    4:13

    जगद्जननी ज्योतिस्वरूपा मां भवानी सभी के जीवन में प्रकाश फैलाएं।अच्छी सोच और सद्भावना से ज्योति प्रज्वलित करें तथा इसका श्रवण मात्र ही महामारी, त्रिविध ताप,पाप (आधिदैविक, आधिभौतिक, आध्यात्मिक )का नाशक है। घरमें दीपक घृत का तैल का जलाएं। एक दीपक न जलाएं एक दीपक जलने पर दीपक तले अंधेरा कमसे कम दो दो दीपक जलने से दोनों के तले के अंधकार का नाश हो जाता है अंदर की लौ भी प्रज्वलित करने के लिए संकल्प लें ।भीतरी ज्ञान को अधिमान दें ।जय हिमाचल, जय भारत ।। नमो नारायणाय।
    शुभेच्छु
    विजयी भरत दीक्षित
    9625141903

  • जीवन में आने वाली सभी चिंताओं को दूर करे ये चालीसा | श्री चिंतपूर्णी चालीसा

    12:34

    जीवन में आने वाली सभी चिंताओं को दूर करे ये चालीसा | श्री चिंतपूर्णी चालीसा

    Lyrics :

    ॥ दोहा ॥

    विघ्न हरण छिन्न मस्तिके, अम्बे कष्ट निदान।
    शरणागत की रक्षक माँ, सबका कर कल्याण॥

    दुर्गे भाग्य सँवारिणी, हरियों सकल कलेश।
    तेरा ही अर्चन करे सदा, ब्रह्मा विष्णु महेश॥

    ॥ चोपाई ॥

    मैया जिसे जय माता दी कहियो, कहियो जी माँ के लाडलो।
    जय दुःख नाशिनी चिंता हरिणी, पिंडी रूपिणी मंगल करिणी॥ १॥

    माँ रुद्राणी महाप्रचंडा, कर में बिराजे खप्पर खंडा।
    दिव्य अलौकिक है महाशक्ति, ऋषि मुनि तेरी करते भक्ति॥ २॥

    सर्व व्यापक अंतर्यामी, कापे सकल दुष्ट थलकामी।
    मैया जिसे जय माता दी कहियो, कहियो जी माँ के लाडलो॥ ३॥

    दानव दल निकला तुम्हारी, माँ विजया जगसिर जनहारी।
    त्रिजग में तेरा डंका बाजे, स्वर्ण छतर तेरे भवन में साजे॥ ४॥

    खड़े संकादिक अंजलि बांधे, सकल देवता तुम्हे आराधे।
    मैया जिसे जय माता दी कहियो, कहियो जी माँ के लाडलो॥ ५॥

    भवभय मोचनी माँ जगदंबा, हरो संकट माँ करियो विलंबा।
    माय दास पग पूजे तेरे, कियो माँ अर्चन सांज सवेरे॥ ६॥

    पाप भक्षिणी छवि तुम्हारी, दीनहीन की माँ रखवारी।
    तुमहि चंडिका माँ सिंहवाहिनी, आनंद गंगा तू सुखदायिनी॥ ७॥

    मैया जिसे जय माता दी कहियो, कहियो जी माँ के लाडलो।
    जहा ज्वलित तेरी अदभुत ज्योती, वहा वैभव की वर्षा होती॥ ८॥

    तिमिर हरण प्रकाश है होता, दुष्कर्मो का नाश है होता।
    जिनका कवच माँ तुम बन जाती, उन्हें ना दुविधा कभी सताती॥ ९॥

    हैं महादेवी हैं महामाया, मधुकर शीतल तेरी छाया।
    मैया जिसे जय माता दी कहियो, कहियो जी माँ के लाडलो॥ १०॥

    हरली जो माँ कुटिल कुबुद्धि, देचित शुद्धि सुख समृद्धि।
    हैं जगपालक हैं जगवंदन, काटो दुःख संताप के बंधन॥ ११॥

    कृपा सुधा से धो दो मनवा, अपनी साची लगादो लगनवा।
    अगम अगोचर अपरंपरा, त्रिजगत गुण गाये तुम्हारा॥ १२॥

    मैया जिसे जय माता दी कहियो, कहियो जी माँ के लाडलो।
    जिस घट भक्ति तुम्हारी जागी, वो घट उत्तम महाबळ भागी॥ १३॥

    हरो अमंगल माँ तू सुमंगला, दो यशकीर्ति अंबे तमला।
    करुणा सिंधु माँ प्रतिपाला, तूद दृष्टि में तीनो काला॥ १४॥

    धरु मस्तक तेरी चरणन धूलि, करो अनुकंपा है माँ भोली।
    मैया जिसे जय माता दी कहियो, कहियो जी माँ के लाडलो॥ १५॥

    सुरनर आये माँ तुमरी शरणा, काज असंभव संभव करणा।
    पिंडी रूप में जाग्रत माता, वाक्य ना तेरा टाले विधाता॥ १६॥

    सब महापंडित गुणी ज्ञानी, तुम चरणों में जुके भवानी।
    पावन अनुग्रह कीजो मैया, केवट बनकर तारो नैया॥ १७॥

    मैया जिसे जय माता दी कहियो, कहियो जी माँ के लाडलो।
    माँ सुखदायिनी दरिदर हरना, माटी छूकर चंदन करना॥ १८॥

    पर्वत वासिनी चिंतपूर्णी, भक्त वत्सला माँ जगजननी।
    जो मन से तेरे ध्यान में खो गये, रंक घडी में राजा हो गये॥ १९॥

    अभय दान तू देती जिनको, यमो का भय ना रेहता उनको।
    मैया जिसे जय माता दी कहियो, कहियो जी माँ के लाडलो॥ २०॥

    अमृतमय स्वर कार्डो मैया, कटु भाषा को हरलो मैया।
    सोई चेतन शक्ति जगा दो, मुर्ख है विधवान बना दो॥ २१॥

    ममता चुनर की देकर छाया, करदो हमारी कुंदन काया।
    धीरज धर्म ना खोने देना, बाल ना बाक़ा होने देना॥ २२॥

    मैया जिसे जय माता दी कहियो, कहियो जी माँ के लाडलो।
    मोक्षदायिनी तुमरी भक्ति, शक्तिहीन को देती शक्ति॥ २३॥

    भक्त जो आये तुमरी शरना, पद पंकज से दूर ना करना।
    हैं निर्मल निर्दोष निरंजना, जाप तुम्हारा संकट भंजना॥ २४॥

    जो भी चालीसा पढ़े तुम्हारा, भव जलसे हो पार उतारा।
    मैया जिसे जय माता दी कहियो, कहियो जी माँ के लाडलो॥ २५॥

    ॥ दोहा ॥

    जगजननी जगदिश्वरी, मैया दया निधानी।
    सच्चे साधक को दीजो, मनवांछित वरदानी॥
    __________

    #SanskarGold #चिंतपूर्णी_चालीसा #Chintpurni_Chalisa

    YouTube पर विशेष भक्ति सामग्री के लिए बेहतरीन गंतव्यों में आपका स्वागत है। विश्वास, धर्म, भक्ति ये केवल शब्द नहीं हैं, वे हमारे अधिकांश के लिए जीवन का एक तरीका हैं। हमारे जैसे बहु सांस्कृतिक देश में, हमारे पास सद्भाव में एक साथ रहने वाले विभिन्न धर्मों के विश्वासियों और अनुयायियों हैं। हम में से अधिकांश के लिए, धर्म वह है जो हम अभ्यास करते हैं या नियमित रूप से पालन करना चाहते हैं; यही कारण है कि हमारा भक्ति चैनल इस आवश्यक आवश्यकता को पूरा करता है। भजन से लेकर लाइव आरती तक, भक्ति गीत दुनिया भर में दर्शकों की एक विस्तृत श्रृंखला के लिए प्रीमियम भक्ति सामग्री प्रदान करता है।। इसके अलावा, यह गाने, आरती, भजन, मंत्र, और बहुत कुछ जैसे धार्मिक संगीत सामग्री सुनने और समर्पित करने के लिए एक मंच भी प्रदान करता है। भारत की पवित्र भूमि से भक्ति गीत, आरती, भजन और श्लोकों के साथ अपनी आत्मा को ऊपर उठाएं।

    प्रतिदिन इस तरह के मनभावन वीडियो की सूचना पाने के लिए हमारे चैनल की सदस्यता लें। (Subscribe करें)

  • बेटा बेटी में भेद करना पाप है कन्या भ्रूण हत्या महापाप है प पु संत श्री रमेश भाई ओजा जी के श्री मुख

    3:04

    Please Visit My new youtube channel Techno Manisha on this link Special credits to sanskar tv
    Special credits to Sandipani.TV
    credits to Sandipani Vidyaniketan
    credits to Shri Hari Mandir
    credits to Sandipani Rishikumar Parivar
    credits to Param Pujya Sant Shri Ramesh Bhai Oza Ji
    credits to Param Pujya Sant Shri Shyam Bhai Thakar Ji
    credits to Param Pujya Sant Shri Hardik Bhai Joshi Ji
    credits to sanskar tv
    This is a Krishn Bhakti Ras Channel.here u will find different and latest krishn bhajans,pravachans by P.P.Sant Shri Ramesh Bhai Oza Ji Pujya Bhaishri.

    Link Of My Facebook Page is

    My other youtube channel is Rochak Jankari evam Tathya
    On Rochak Jankari u will find videos based on travel,politics and many other interesting topics This is a Krishn Bhakti Ras Channel.here u will find different and latest krishn bhajans,pravachans by P.P.Sant Shri Ramesh Bhai Oza Ji Pujya Bhaishri and many other popular saints.

    Link Of My Facebook Page is

    My other youtube channel is Rochak Jankari evam Tathya
    On Rochak Jankari u will find videos based on travel,politics and many other interesting topics

  • माँ तू कितनी अच्छी है कितनी भोली है प्रमोद गोलहानी 21 सितंबर 2019

    5:30


    ????????????????????????????????

    ????????????????????????????????
    आप सभी के भाई *घंसौर क्षेत्र के * सुप्रसिद्ध गायक ???? प्रमोद गोलहानी* जी की आवाज में बहुत ही शानदार देवी गीत
    ????????????????????????????????
    *माँ तू कितनी अच्छी है कितनी भोली है*
    ????????????????????????????????????????????????????????????????
    *लाईफ शो*
    कृपा आप सभी मित्र वर हमारे क्षेत्रीय गायक को अपना आशीर्वाद अवश्य प्रदान करें *लाइक करें,* *शेयर करें,* *कमेंट करे,* *सब्सक्राइब* करें।
    ????????????????????????????????????????????????????????
    *आप सभी का दिल से आभार*
    ????????????????????????????????
    ????????जय हो माई की ????




    ???? ~ *आज का हिन्दू पंचांग* ~ ????
    ⛅ *दिनांक 21 सितम्बर 2019*
    ⛅ *दिन - शनिवार*
    ⛅ *विक्रम संवत - 2076 (गुजरात. 2075)*
    ⛅ *शक संवत -1941*
    ⛅ *अयन - दक्षिणायन*
    ⛅ *ऋतु - बर्षा*
    ⛅ *मास - अश्विन (गुजरात एवं महाराष्ट्र अनुसार भाद्रपद)*
    ⛅ *पक्ष - कृष्ण*
    ⛅ *तिथि - सप्तमी रात्रि 08:21 तक तत्पश्चात अष्टमी*
    ⛅ *नक्षत्र - रोहिणी सुबह 11:23 तक तत्पश्चात मॄगशिरा*
    ⛅ *योग - सिद्धि रात्रि 09:58 तक तत्पश्चात व्यतीपात*
    ⛅ *राहुकाल - सुबह 09:19 से सुबह 10:50 तक*
    ⛅ *सूर्योदय - 06:28*
    ⛅ *सूर्यास्त - 18:35*
    ⛅ *दिशाशूल - पूर्व दिशा में*
    ⛅ *व्रत पर्व विवरण - सप्तमी का श्राद्ध*
    ???? *विशेष - सप्तमी को ताड़ का फल खाने से रोग बढ़ता है तथा शरीर का नाश होता है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)*
    ???? *~ हिन्दू पंचांग ~* ????

    ???? *कौन सा वृक्ष लगाने से क्या फल मिलता है*????
    ???????? *भविष्यपुराण में आता हैं कि अशोक-वृक्ष लगाने से कभी शोक नहीं होता, प्लक्ष (पाकड़) वृक्ष उत्तम स्त्री प्रदान करवाता है ज्ञानरुपी फल भी देता हैं | बिल्ववृक्ष दीर्घ आयुष्य प्रदान करता है | जामुन का वृक्ष धन देता है, तेंदू का वृक्ष कुलबुद्धि कराता है | दाडिम (अनार) का वृक्ष स्त्री-सुख प्राप्त कराता है | बकुल पाप-नाशक, यंजुल (तिनिश) बल-बुद्धिप्रद है | धातकी (धव) स्वर्ग प्रदान करता हैं | वटवृक्ष मोक्षप्रद, आम्रवृक्ष अभीष्ट कामनाप्रद और गुवाक (सुपारी) का वृक्ष सिद्धिप्रद है | वल्वल, मधूक (महुआ) तथा अर्जुन-वृक्ष सब प्रकार का अन्न प्रदान करता है | कदम्ब-वृक्ष से विपुल लक्ष्मी की प्रप्ति होती है | तिन्तिडी )इमली) का वृक्ष धर्मदूषक माना गया है | शमी-वृक्ष रोग-नाशक है | केशर से शत्रुओं का विनाश होता है | श्वेत वट धनप्रदाता पनस (कटहल)वृक्ष मंद बुद्धिकारक है | मर्कटी (केंवाच)एवं कदम-वृक्ष के लगाने से संतति का क्षय होता है |*
    *शीशम, अर्जुन, जयंती, करवीर, बेल तथा पलाश- वृक्षों के आरोपण से स्वर्ग की प्राप्ति होती है | विधिपूर्वक वृक्ष का रोपण करने से स्वर्ग-सुख प्राप्त होता है और रोपणकर्ता के तीन जन्मों के पाप नष्ट हो जाते हैं |*
    ???? *~ हिन्दू पंचांग ~* ????

    ???? *व्यतिपात योग* ????
    ???????? *व्यतिपात योग की ऐसी महिमा है कि उस समय जप पाठ प्राणायम, माला से जप या मानसिक जप करने से भगवान की और विशेष कर भगवान सूर्यनारायण की प्रसन्नता प्राप्त होती है जप करने वालों को, व्यतिपात योग में जो कुछ भी किया जाता है उसका १ लाख गुना फल मिलता है।*
    ???????? *वाराह पुराण में ये बात आती है व्यतिपात योग की।*
    ???????? *व्यतिपात योग माने क्या कि देवताओं के गुरु बृहस्पति की धर्मपत्नी तारा पर चन्द्र देव की गलत नजर थी जिसके कारण सूर्य देव अप्रसन्न हुए नाराज हुए उन्होनें चन्द्रदेव को समझाया पर चन्द्रदेव ने उनकी बात को अनसुना कर दिया तो सूर्य देव को दुःख हुआ कि मैने इनको सही बात बताई फिर भी ध्यान नहीं दिया और सूर्यदेव को अपने गुरुदेव की याद आई कि कैसा गुरुदेव के लिये आदर प्रेम श्रद्धा होना चाहिये पर इसको इतना नहीं थोडा भूल रहा है ये, सूर्यदेव को गुरुदेव की याद आई और आँखों से आँसू बहे वो समय व्यतिपात योग कहलाता है। और उस समय किया हुआ जप, सुमिरन, पाठ, प्रायाणाम, गुरुदर्शन की खूब महिमा बताई है वाराह पुराण में।*
    ???? *विशेष ~ 21 सितम्बर 2019 शनिवार को रात्रि 09:59 से 22 सितम्बर, रविवार को रात्रि 08:27 तक व्यतिपात योग है।*

    ????????⚔????????????????⚔????????????

  • Daridrya Dukh Dahan Stotram By Aanjaneya Sharma Anjul | दारिद्र्य दुःख दहन स्तोत्र |

    5:18

    Credit
    Singer : Aanjaneya Sharma 'Anjul'/आंजनेय शर्मा 'अंजुल'

    Song : Daridrya Dukh Dahan Stotram

Menu